सेना दिवस पर आर्मी चीफ नरवणे का संदेश, व्यर्थ नहीं जाएगा गलवान में शहीद हुए जवानों का बलिदान

Army Day MM Naravane Speech India china Galwan clash - Sakshi Samachar

कोई भी हमारे धैर्य की परीक्षा ना लें- आर्मी चीफ

करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड का निरीक्षण 

नई दिल्ली: सेना दिवस (Army Day) पर सेना प्रमुख एम.एम. नरवणे ने देश की रक्षा में वीरगति प्राप्त सैनिकों को याद किया। देश को संबोधित करते हुए आर्मी चीफ एम.एम. नरवणे (Manoj mukund Naravane) ने कहा कि गलवान में शहीद हुए जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। साथ ही कहा कि भारतीय सेना देश के सम्मान पर कोई आंच नहीं देगी।

सेनाध्यक्ष MM नरवणे ने चीन और पाकिस्तान को स्पष्ट संदेश दिया है। उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश हमारे धैर्य की परीक्षा ना लें। दिल्ली स्थित करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड का निरीक्षण और और सैनिकों को उनकी वीरता के लिए सम्मानित करने के बाद अपने संबोधन में उन्होंने चीन और पाकिस्तान की नापाक हरकतों पर टिप्पणी की।

साजिशों का मुंहतोड़ जवाब दिया
सेना अध्यक्ष नरवणे ने कहा कि हमारे लिए पिछला साल काफी चुनौतीपूर्ण रहा। चीन के साथ उत्तरी सीमाओं पर चल रहे तनाव से आप परिचित हैं। उन्हें एकतरफा बदलाव की साजिशों का मुंहतोड़ जवाब दिया गया है। सेना अध्यक्ष ने आगे कहा कि देश को ये यकीन दिलाना चाहूंगा कि गलवान में शहीद हुए जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। भारतीय सेना देश के सम्मान पर कोई आंच नहीं देगी।

चीन से आठ दौर की बैठक पूरी
सेना प्रमुख एम.एम. नरवणे ने अपने संबोधन में कहा कि चीन के साथ अभी तक आठ दौर की बातचीत हो चुकी है, मुश्किल चुनौतियों के बाद भी जवानों ने हालात का सामना किया है। सेना प्रमुख ने कहा वो देश को भरोसा दिलाते हैं कि सीमाएं पूरी तरह सुरक्षित हैं। 

'नापाक इरादों को सफल नहीं होने देंगे'

सेनाध्यक्ष ने इस दौरान कहा कि हम बातचीत के जरिए और राजनीतिक कोशिशों से विवाद का हल निकालने के लिए प्रतिबद्ध हैं। लेकिन कोई भी हमारे धैर्य की परीक्षा ना लें। वहीं पाकिस्तान की नापाक साजिशों पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि हम उनके नापाक इरादों को सफल नहीं होने देंगे। नियंत्रण रेखा पर भी दुश्मन को करारा जवाब दिया जा रहा है।

पाकिस्तान लगातार आतंकवाद को बढ़ावा देने का काम कर रहा है। अभी भी सीमा के पार आतंकी लॉन्चपैड पर 300 से 400 आतंकी मौजूद हैं, लेकिन सेना हर मुश्किल के लिए तैयार है। पाकिस्तान ने सीमा पर करीब 40 फीसदी तक सीजफायर उल्लंघन को बढ़ाया है।  

सेना अध्यक्ष नरवणे ने अपने संबोधन में कहा कि जम्मू-कश्मीर में करीब 200 आतंकियों को ढ़ेर किया जा चुका है।  पाकिस्तान की सीमा से सटी हुई कई सुरंगों को भी खोजा जा चुका है। 

'शहीदों के परिवार के साथ है आर्मी' 
सेना दिवस पर सेना प्रमुख एम.एम. नरवणे ने कहा कि आज हम उन शहीदों को याद करते हैं जिहोंने देश की रक्षा में वीरगति प्राप्त की है। उनकी शहादत समस्त देश और भारतीय सेना के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है। मैं उनके परिवारों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि हम उनके साथ हमेशा खड़े हैं।

इसके साथ ही आर्मी चीफ ने भारतीय सेना द्वारा विकसित एक इंडियन आर्मी मोबाइल ऐप को लॉन्च किया। ये ऐप देश के नागरिकों को भारतीय सेना के बारे में विस्तृत जानकारी देगा।

Related Tweets
Advertisement
Back to Top