चुनाव प्रचार छोड़ ट्रैक्‍टर चलाने लगे तेज प्रताप, जोत दी पांच कट्ठा जमीन, देखें वीडियो

Tej Pratap Yadav Started Driving Tractor During Campaigning In Hasanpur - Sakshi Samachar

हमेशा चर्चा में रहते तेज प्रताप के अंदाज

ट्रैक्‍टर चलाने की दी जानकारी

देखते-देखते ही जोत दी पांच कट्ठा जमीन

पटना : बिहार में विधानसभा के पहले चरण के मतदान को लेकर चुनाव प्रचार जोरों पर है। इसी बीच राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव का एक अलग अंदाज सामने आया है। तेज प्रताप इस बार अपने विधानसभा क्षेत्र में खेते में ट्रैक्‍टर चलाते तथा सत्‍तु खाते देखे गए हैं। चुनाव प्रचार के दौरान तेज प्रताप यादव एक खेत में ट्रैक्टर चलाने लगे, फिर एक किसान के घर जा पहुंचे और वहां जाकर सत्तू भी खाया।

हमेशा चर्चा में रहते तेज प्रताप के अंदाज

तेज प्रताप यादव अक्सर अपने निराले अंदाज के लिए चर्चा में बने रहते हैं। और उनकी कई तस्‍वीरें वायरल भी हो चुकी हैं। एक बार वे साइकिल चलाते हुए पटना की सड़क पर गिर भी चुके हैं। उनकी पत्‍नी ऐश्‍वर्या को साइकिल की सवारी करानी तस्‍वीर भी वायरल हुई थी। उनके फिल्‍मों के शौक की भी चर्चा रही है।

ट्रैक्‍टर चलाने की दी जानकारी

इनदिनों तेज प्रताप यादव अपने विधानसभा क्षेत्र में खूब सक्रिय हो गए हैं। भूख लगती है तो सत्‍तु खा लेते हैं। उन्‍होंने चुनावी जनसंपर्क के दौरान हसनपुर विधानसभा क्षेत्र के अहिलवार पंचायत में सत्‍तु खाते तस्‍वीर ट्वीट करते हुए ठेठ अंदाज में लिखा है कि पटना हो या हसनपुर, वे सत्‍तु तो खाते ही रहते हैं। एक अन्‍य ट्वीट में तेज प्रताप हसनपुर में ट्रैक्टर चलाते देखे जा रहे हैं।

देखते-देखते ही जोत दी पांच कट्ठा जमीन

चुनाव प्रचार के दौरान तेज प्रताप यादव का बड़गांव पंचायत में एक खेत में ट्रैक्टर चला रहे चालक पर उनकी नजर पड़ी। इसके बाद वे खेत में पहुंच गए और ट्रैक्टर मांग कर चलाने लगे। देखते-देखते उन्‍होंने करीब पांच कठ्ठा खेत की जुताई कर दी। फिर, ट्रैक्टर से उतर कर पास के एक मचान पर बैठ गए।

इसे भी पढ़ें : 

बिहार चुनाव 2020 : वोट मांगने पहुंचे नीतीश के मंत्री को जनता ने भगाया, जमकर हुई फजीहत​

बिहार चुनाव 2020 : तेज प्रताप ने बदल ली अपनी सीट, अब यहां मांग रहे वोट

 हम समझते किसानों का दर्द

इसके बाद तेज प्रताप ने खुद को किसान बताते हुए कहा कि वे किसानों की समस्याओं को समझते हैं। क्षेत्र के खेतों में जलजमाव की समस्या है। यहां उनकी प्राथमिकता नहर योजना को जमीन पर उतारने की होगी। उन्‍होंने चौर से जल निकासी की व्यवस्था करने का भी आश्‍वासन दिया।

दलित बस्‍ती में बजाई थी बांसुरी

 रविदास जयंती  के मौके पर तेज प्रताप यादव को पटना के मसौढ़ी स्थित एक दलित बस्‍ती में बासुरी बजाते दिखे थे। रविदास जयंती के अवसर पर उन्‍होंने मसौढ़ी के बरनी गांव में संत रविदास को श्रद्धांजलि दी तथा बांसुरी बजाई। भूख लगी तो एक गरीब महिला से मांग कर खिचड़ी भी खाई। तेज प्रताप भगवान शिव के भी भक्‍त हैं। वे शिव रूप धरते तथा शंख भी बजाते रहे हैं।

Advertisement
Back to Top