तमिलनाडु में 'ईमानदार' सरकार लाने के लिए राजनीति में कूदेंगे रजनीकांत, बदलेंगे तमिलनाडु का भाग्य

Rajinikanth Future Plan and Political Entry in New Year For Change Tamilnadu - Sakshi Samachar

31 दिसंबर को घोषणा करेंगे रजनीकांत

तमिलनाडु में हम सब कुछ बदल देंगे : रजनीकांत

तमिलनाडु की राजनीति में होगा चमत्कार

चेन्नई : अभिनेता रजनीकांत (Actor Rajinikanth) ने गुरुवार को कहा कि वह जनवरी में अपनी राजनीतिक पार्टी (Political Party) लाएंगे और इस संबंध में 31 दिसंबर, 2020 को एक घोषणा की जाएगी। इसके साथ ही रजनीकांत ने तमिलनाडु की राजनीति (Tamilnadu Politics) में अपनी वापसी को लेकर लग रहीं तमाम अटकलों को भी खत्म कर दिया है।

अभिनेता रजनीकांत ने गुरुवार को कहा कि तमिलनाडु के भाग्य को बदलने का समय आ गया है। राज्य में राजनीतिक और सरकारी बदलाव महत्वपूर्ण है और यह समय की मजबूरी है। अभिनेता ने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक सरकार के साथ-साथ प्रमुख विपक्षी दल द्रमुक के खिलाफ भी अपना चुनावी बिगुल फूंक दिया। रजनीकांत ने कहा कि वह जनवरी 2021 में अपनी राजनीतिक पार्टी को सामने लाएंगे और इस संबंध में एक घोषणा 31 दिसंबर, 2020 को की जाएगी।

आगामी विधानसभा चुनावों में होगा चमत्कार
रजनीकांत ने यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, "तमिलनाडु की किस्मत बदलने का समय आ गया है। राज्य में राजनीतिक और सरकार परिवर्तन महत्वपूर्ण है। यह निश्चित रूप से बदल जाएगा। राजनीतिक परिवर्तन महत्वपूर्ण है और समय की मजबूरी है। यदि अभी नहीं, तो यह कभी संभव नहीं होगा। सब कुछ बदलना होगा। हम सब कुछ बदल देंगे दिग्गज अभिनेता ने एक ट्वीट में इसकी घोषणा करते हुए कहा, "आगामी विधानसभा चुनावों में तमिलनाडु में लोगों के बड़े पैमाने पर मिले समर्थन से एक ईमानदार, पारदर्शी, भ्रष्टाचार-रहित, धर्मनिरपेक्ष और आध्यात्मिक राजनीति होगी। चमत्कार होगा।" 

30 नवंबर को दी थी जानकारी
30 नवंबर को रजनीकांत ने रजनी मक्कल मंदरम के जिला सचिवों से कहा था कि वे अपने राजनीतिक निर्णय की घोषणा करेंगे। कुछ जिला सचिवों ने पत्रकारों से कहा कि अभिनेता ने उनसे कहा था कि वह राजनीतिक पार्टी बनाने और राजनीति में उतरने का फैसला करेंगे। दो जिला सचिवों ने कहा कि रजनीकांत जल्द ही तमिलनाडु की सक्रिय राजनीति में कूदने पर अपने फैसले की घोषणा करेंगे।

मंदरम अधिकारियों के अनुसार, उन्होंने रजनीकांत की स्वास्थ्य स्थिति पर चिंता भी जताई और कहा कि 2021 में तमिलनाडु विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए आदर्श समय होगा। यह बैठक करीब दो घंटे तक चली। बैठक के बाद उन्होंने लोगों से मुलाकात भी की। पता चला है कि रजनीकांत ने जिला सचिवों से कहा था कि उनके साथ राजनीति करते हुए किसी के लिए भी पैसा कमाना संभव नहीं है।

पिछले महीने किया था ट्वीट
पिछले महीने रजनीकांत ने ट्वीट किया था कि वह रजनी मक्कल मंदरम के अधिकारियों के साथ अपनी स्वास्थ्य स्थिति के बारे में परामर्श करने के बाद अपने राजनीतिक रुख की घोषणा करेंगे। रजनीकांत ने कहा था, "रजनी मक्कल मंदरम के अधिकारियों के साथ उचित समय पर इस मुद्दे पर चर्चा करने के बाद, मैं अपने राजनीतिक रुख की घोषणा करूंगा।" कथित बयान के अनुसार, रजनीकांत के डॉक्टरों ने उन्हें राजनीति में आने को लेकर मना किया था क्योंकि कुछ समय पहले ही उनका किडनी प्रत्यारोपण हुआ है और कोविड-19 का वैक्सीन अभी नहीं आया है। सवाल ये भी है कि यदि वैक्सीन आ भी जाए तो क्या यह उनकी 70 साल की उम्र में प्रभावी होगा।

इसे भी पढ़ें : सुपरस्टार रजनीकांत का बड़ा ऐलान, जनवरी में बनेगी नई राजनीतिक पार्टी

बता दें कि तमिलनाडु विधानसभा का चुनाव 2021 में होना है। ऐसे में कथित बयान के अनुसार, यदि रजनीकांत को एक राजनीतिक पार्टी शुरू करनी है, तो दिसंबर तक उन्हें अपनी योजनाओं को अंतिम रूप देना होगा और अगले साल 15 जनवरी तक इसकी घोषणा करनी होगी।

Advertisement
Back to Top