जम्मू कश्मीर में देशद्रोही ताकतों का साथ दे रही है कांग्रेस, फारुख अब्दुल्ला व महबूबा मुफ्ती पर भी बरसे शिवराज

MP CM Shivraj Singh on Guptakar alliance About Jammu and Kashmir - Sakshi Samachar

'गुपकार गठबंधन' पर लगातर हमलावर भाजपा

एक के बाद एक नेता दे रहे बयान

क्या है गुपकार गठबंधन

भोपाल :  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जम्मू-कश्मीर के गुपकार गठबंधन को लेकर कांग्रेस के अलावा फारुख अब्दुल्ला व महबूबा मुफ्ती पर हमला बोलते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर जहर घोलने की कोशिश हो रही है।

भाजपा के भोपाल स्थित प्रदेश कार्यालय में शुक्रवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए चौहान ने कहा कि गुपकार गठबंधन राष्ट्र विरोधियों का गठबंधन हैं। इसमें वे लोग शामिल हैं जिन्होंने रोशनी एक्ट की आड़ में हजारों करोड़ की जमीन का घोटाला किया। भाजपा ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने पर अपने वादे के मुताबिक जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को समाप्त किया है, मगर गुपकार गठबंधन इस धारा की बहाली की बात कर रहा है। इतना ही नहीं चीन और अमेरिका के नए राष्ट्रपति से सहयोग लेने की बात कही जा रही है।

चौहान ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर में अब्दुल्लाओं, मुफ्तियों और एक परिवार के गांधियों ने जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर जहर घोलने की कोशिश शुरु कर दी है। इन परिवारों के बच्चे तो विदेशों में पढ़ते रहे और कश्मीरियों को पत्थर थमा कर उनके भविष्य को अंधेरे में धकेलते हैं।

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए चौहान ने कहा कि जम्मू कश्मीर में कांग्रेस ने देशद्रोही ताकतों का साथ दिया है। अब गुपकार गठबंधन का हिस्सा बनकर कांग्रेस जिला विकास परिषद का चुनाव लड़ने जा रही है।

जम्मू कश्मीर के बदलते हालातों का जिक्र करते हुए चौहान ने कहा कि जिन गलियों में खून के धब्बे नजर आते थे वहां धारा 370 की समाप्ति के बाद अब प्रकृति की खुशबू आने लगी है। यह देशद्रोहियों को रास नहीं आ रहा है। वे वहां एक बार फिर माहौल बिगाड़ना चाहते हैं, इसीलिए धारा 370 की बहाली चाहते हैं।

क्या है गुपकार गठबंधन

दरअसल केंद्रशासित प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल कराने के मकसद से जो बहुदलीय समूह का निर्माण किया गया है। उसे ही ‘पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लयरेशन' (पीएजीडी) या गुपकार कहा जाता है। श्रीनगर में एक गुपकार रोड भी है और नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला का यहीं पर आवास है। पीएजीडी नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) सहित जम्मू-कश्मीर में मुख्य धारा की सात राजनीतिक दलों का गठबंधन है, जो जम्मू-कश्मीर को पहले की भांति विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं।

Advertisement
Back to Top