मप्र में उपचुनाव से पहले ही 'गद्दार बनाम देशभक्त' का नैरेटिव सेट करने में जुटे ज्योतिरादित्य

Jyotiraditya Scindia Begins aggressive campaigning Against Kamal Nath in MP - Sakshi Samachar

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश में 24 सीटों के उपचुनाव के पहले भाजपा के राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आक्रामक कैंपेनिंग शुरू कर दी है। उन्होंने 'देशभक्त बनाम गद्दार' का नैरेटिव सेट करना शुरू कर दिया है। उनके समर्थक सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल करने में जुटे हैं, जिसमें सिंधिया को देशभक्त और कमलनाथ को गद्दार बताया जा रहा है।

इस वीडियो में कहा जाता है कि देश की एकता के मुद्दे पर कौन देश के साथ है, कौन देश के खिलाफ है, इसका फैसला जनता को करना चाहिए।माना जा रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की टीम इस वीडियो को वायरल कर कांग्रेस नेताओं की उन बयानों का काउंटर करने में जुटी है, जिसमें कांग्रेस छोड़ने के बाद उन्हें खानदानी गद्दार बताने की कोशिश हुई थी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इस वीडियो को रिट्वीट किया है। कई फेसबुक अकाउंट पर उनके समर्थक इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं। इस वीडियो में देश के कई ज्वलंत मुद्दों पर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बयानों की तुलना की गई है। इस वीडियो में ज्योतिरादित्य सिंधिया के वे सभी बयान हैं, जो उन्होंने कांग्रेस में रहते हुए पार्टी लाइन के विपरीत मोदी सरकार के पक्ष में दिए थे। मसलन, बालाकोट एयर स्ट्राइक पर जहां कमलनाथ इसको लेकर कुछ सवाल खड़े करते हैं, वहीं सिंधिया कहते हैं कि हमारे लिए पहले तिरंगा झंडा है। जहां देश की एकता और अखंडता का मामला है, वहां हम सब पहले भारतवासी हैं।

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने को लेकर कमलनाथ ने जहां इसे भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला बताया था, वहीं सिंधिया ने ट्वीट कर समर्थन किया था। इस हिस्से को भी वीडियो में दिखाया गया है। समर्थकों की ओर से वायरल किए जा रहे वीडियो में कमलनाथ का तीन तलाक पर एक बयान है, जिसमें वह इसकी संसदीय बोर्ड से समीक्षा करने की बात कहते हैं। वहीं कांग्रेस में रहने के दौरान ही कमलनाथ के विपरीत सिंधिया ने कहा था-इस देश में हर एक महिला को अपना हक मिलना चाहिए। मैं तो महिलाओं के पक्ष में खड़ा हूं। यहां सवाल किसी सरकार के पक्ष या विपक्ष में खड़ा होने का नहीं है।

इसे भी पढ़े : 

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने क्यों कहा- टाइगर अभी जिंदा है, कौन है उनका निशाना?
वीडियो में राम मंदिर मुद्दे पर भी ज्योतिरादित्य और कमलनाथ के बयान को दिखाया गया है। कमलनाथ जहां इसे राजनीतिक स्टंट बताते हैं, वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं। आखिर में वायरल वीडियो में सवाल उठाया जाता है कि देश के मुद्दों पर कौन गद्दार, कौन देशभक्त, फैसला आपका?

बता दें कि कांग्रेस ने बीते 18 जून को रानी लक्ष्मी बाई बलिदान दिवस के बहाने सिंधिया पर निशाना साधते हुए उन्हें खानदानी गद्दार बताया था। अब ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक कांग्रेस के बयानों का तीखा जवाब देने में जुटे हैं। जिस वीडियो को सिंधिया ने रिट्वीट किया है, उसमें कहा गया है, "सिंधिया ने कांग्रेस में रहते हुए भी हर देशहित के विषय पर समर्थन दिया और कमलनाथ देशहित के मुद्दे पर भी राजनीति करते रहे..देशभक्त कौन? और गद्दार कौन? आप तय कीजिए..।"

Advertisement
Back to Top