बनारस में भाजपा के केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय के रिश्तेदार ने दिया प्रियंका गांधी को अपने आवास का 'गिफ्ट'

BJP minister Mahendranath relatives gifted his Home to Priyanka Gandhi - Sakshi Samachar

वाराणसी : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को बनारस में नया आवास मिलने जा रहा है। कांग्रेस के एक नेता ने उन्हें रहने लिए अपना मकान देने का ऐलान किया है।

फिलहाल मकान पर प्रियंका गांधी के नाम का बोर्ड लगा दिया गया है। एक दो दिन में नोटरी भी कर दी जाएगी। स्‍पष्‍ट है कि कुछ ही दिनों में प्रियंका गांधी वाराणसी की भी निवासी हो जाएगी। चूंकि इस समय राजनीति का सबसे बड़ा केंद्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को माना जा रहा है, ऐसे में प्रियंका का वाराणसी में नए आवास का होना सत्‍ता की गलियारों में किसी कौतूहल से कम नहीं है।

मकान का प्रस्‍ताव देने वाले केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय के रिश्तेदार

कांग्रेस नेता, जिन्‍होंने मकान देने का प्रस्‍ताव किया है, वे भाजपा के केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय के रिश्तेदार भी हैं। वहीं, केंद्रीय मंत्री के भाई की पुत्रवधू अमृता पांडेय, जो कांग्रेस में शामिल हुई हैं, ने भी प्रियंका को आवास देने का प्रस्ताव तैयार किया है। बनारस के जीविधिपुर बजरडीहा निवासी कांग्रेस नेता पुनीत मिश्रा ने कहा कि एक साल पहले इस आवास का गृह प्रवेश हुआ है। अब अपने नेता को समर्पित कर रहा हूं। यदि भाजपा सरकार ने उन्हें बेदखल किया है तो पार्टी के हर कार्यकर्ता का आवास उनका ही है।

कांग्रेस नेता की बहन भी मकान देने की तैयारी में

पुनीत ने कहा कि मकान के बाहर प्रियंका गांधी के नाम का बोर्ड लगा दिया गया है और जल्‍द नोटरी करने जा रहा हूं। मकान में सभी सुख-सुविधाओं का ध्‍यान रखा गया है ताकि प्रियंका को यह अपने घर जैसा ही लगे। कहा कि मेरी बहन अमृता पांडेय ने भी कांग्रेस महासचिव को मकान देने की तैयारी की है। अमृता केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ के घर की पुत्रवधू हैं। वह भी भाजपा सरकार से नाराज हैं। कहना है कि राजनीतिक प्रतिद्वंदिता में घर से बेदखल करना न्याय नहीं है। भाजपा गिरी हुई राजनीति कर रही है।

दिल्‍ली में प्रियंका को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश

गौरतलब है कि बीते 2 जुलाई को सरकार ने कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा से लोधी एस्‍टेट वाला सरकारी बंगला खाली करने को कहा था। आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय की ओर से इसके लिए एक महीने यानि 1 अगस्‍त 2020 तक की मोहलत दी गई है। प्रियंका वर्षों से लोधी स्टेट के इस आलीशान बंगला नंबर 35 में रह रही थीं। आदेश में बंगला खाली कराने के पीछे एसपीजी सुरक्षा व्‍यवस्‍था हटाए जाने को वजह बताया गया है। मंत्रालय की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है कि यदि प्रियंका पहली अगस्त तक इस बंगले को खाली नहीं करती हैं तो उन्हें जुर्माना भी देना होगा।

Advertisement
Back to Top