कोरोना : जब घर बुलाएं इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर या कारपेंटर को तो इन बातों पर ध्यान दें, बरतें ये सावधानियां

When  electrician, plumber or carpenter visit your home take these precautions - Sakshi Samachar

कोरोना वायरस खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा

अब हमें इसके साथ रहना है और सावधान रहना है

कोरोना वायरस से हम जूझ रहे हैं पर ये खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही। ऐसे में हमें इसके साथ रहने की, जीने की और खुद का इससे बचाव करने की आदत डालनी होगी। अगर हम सचेत रहें, सावधान रहें तो इससे अपने और अपने परिवार का बचाव कर सकते हैं। घर में कई चीजों की जरूरत होती है जिन्हें बाजार से लाना होता है वहीं कई बातों का ध्यान भी रखना पड़ता है। धीरे-धीरे हमें अपनी आदतों को बदलना होगा और सावधान रहने की तो जैसे आदत ही डाल लेनी होगी जो हर कदम पर हमारा साथ देगी। 

अब घर है तो चीजें खराब भी होती है जैसे एसी, कूलर या पंखे में खराबी आ जाए, बाथरूम का नल खराब हो जाए, कहीं शॉर्ट सर्किट से बिजली कनेक्शन बाधित हो रहा हो, कुर्सी, टेबल, वार्डरोब वगैरह कोई फर्नीचर बनवाना या मरम्मत करवाना हो....या फिर रोजाना की ऐसी ही अन्य जरूरतें हों, हमें मैकेनिक, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर, कारपेंटर वगैरह को घर पर बुलाना ही पड़ता है। 

आजकल तो इन्हें बुलाना आसान भी हो गया है। हम नंबर डायल करते हैं और कुछ ही देर में वे सेवा में हाजिर हो जाते हैं। एक तरह से ये हमारी जरूरत का हिस्सा बन चुके हैं और इनके बिना हम परेशान हो सकते हैं। 

कोरोना के इस समय में क्या आपने कभी ये सोचा है कि इन सेवाओं पर क्या प्रभाव पड़ा है? पहले जहां हम इन्हें बेधड़क, बेझिझक बुला लेते थे, उसी तरह क्या अब भी बुला पाएंगे? या फिर इस कोरोना काल में हम इन्हें बुलाने से बचेंगे? इतना तो तय है कि हमारी झिझक बनी रहेगी और हमें डर तो लगा ही रहेगा! अगर बुलाएंगे तो किन बातों का ध्यान रखना जरूरी होगा?

मकान-दुकान बनवाना हो या फिर घर पेंट करवाना, ये चीजें तो कुछ समय के लिए टाली जा सकती है लेकिन जिन जरूरतों की चर्चा की गई है, उनके लिए तो तुरंत मैकेनिक, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर, कारपेंटर वगैरह की जरूरत पड़ती हैं। 

गर्मी इतनी बढ़ रही है तो कूलर, एसी वगैरह ठीक तो करवाना ही पड़ता है। बिजली कनेक्शन बाधित होने या नल खराब हो जाने जैसी दिक्कतें हम भला कितने दिन झेल पाएंगे! ऐसे में इनकी जरूरत तो पड़ेगी ही। लॉकडाउन के पहले, दूसरे चरण में ज्यादा सख्ती के कारण हमें दिक्कतें झेलनी पड़ी लेकिन तीसरे चरण से कुछ हद तक राहत दी गई और चौथे चरण में शर्तों के साथ आर्थिक गतिविधियां बढ़ी हैं।

पहले जहां मैकेनिक, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर, कारपेंटर वगैरह को हम अपने कॉन्टैक्ट के जरिए अलग-अलग बुलाते थे, वहीं पिछले पांच-छह वर्षों में इनका तरीका बदला है। अब एक कॉमन कॉल पर ये हमारे घर पर उपलब्ध होते हैं। होम सर्विस, सेवा आपके द्वार, वन कॉल सॉल्यूशन जैसे अलग-अलग टैग से शहरों में इन सेवाओं का चलन काफी बढ़ा है। छोटे-बड़े शहरों में ऐसी ढेर सारी कंपनियां ऑनलाइन सेवाएं दे रही है लेकिन सवाल वही है कि क्या अब भी लोग पहले की ही तरह इन्हें घर पर बुलाएंगे?

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बावजूद लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर और इस तरह का काम करने वाले अन्य मैकेनिकों को घर आकर रिपेयर करने की छूट दी है। 
वहीं एसी, कूलर, पंखों की रिपेयरिंग दुकानों को भी कामकाज में ढील दी गई है। कई बड़े शहरों में न केवल प्रशासन को बल्कि आम लोगों को भी डर है कि एसी-कूलर मैकेनिक, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर आदि कहीं कोरोना का संक्रमण ना फैला दें। लोग चिंतित हैं कि क्या पहले की ही तरह इन्हें घर पर बुलाना सुरक्षित रहेगा? 

तो आइये यहां जानते हैं कि इन्हें बुलाने पर क्या सावधानियां बरतें जिससे हम सुरक्षित रह सकें .....

- सबसे पहले तो यह जान लें कि स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देश के अनुसार, सोशल डिस्टेंसिंग, फेस मास्क और साफ-सफाई बरतनी जरूरी है। 

-प्लंबर, मैकेनिकों के साथ भी ये सावधानियां बरतनी है। उनके पास फेस मास्क, दस्ताने, पैरों पर कवर जूते होने चाहिए। इसके अलावा उन्हें संक्रमण फैलने के तमाम तरीकों के बारे में जानकारी हो, अगर न हो तो आप उन्हें बताएं।  

- जब आप प्लंबर, मैकेनिक, इलेक्ट्रिशियन को घर बुलाते हैं तो अंदर आने से पहले उकेन हाथ सैनिटाइज करवा दें या फिर अंदर आते ही साबुन से अच्छी तरह 20 सेकेंड तक हाथ धोने को कहें।

- मैकेनिक से घर के लोग दूरी बना कर रखें, खासकर बच्चों पर ज्यादा ध्यान दें।
 

- बाथरूम या किचन में नल की टोटी ठीक करने के बाद उसे अच्छी तरह धो दें।

- बिजली बोर्ड वगैरह को भी ठीक करने के बाद बाहर से स्प्रे से सैनिटाइज करा दें (मेन स्विच ऑफ कर)।
 

-फर्नीचर मरम्मत कराने या एसी, कूलर वगैरह ठीक कराने की कोई खाली जगह निश्चित करें, जहां वे काम कर सकें।

- मैकेनिक, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर अपने घर लौटें तो... काम से घर लौटने पर परिवार से मिलने से पहले अपने बाहरी कपड़े उतार दें। परिवार के सदस्य पहले से ही पानी में सर्फ डालकर रखें, जिसमें कपड़े भिगो दें। परिवार के सदस्यों से मिलने से पहले साबुन से अच्छी तरह नहा लें।
 

जरूरत पड़ने पर इन्हें बिन बुलाए तो काम नहीं होने वाला है इसलिए ये सावधानियां बरतनी जरूरी है।  ये सावधानियां बरतकर हम सुरक्षित भी रहेंगे और हमारा काम भी हो जाएगा। 

इसे भी पढ़ें : 

कोरोना : इम्यूनिटी का स्ट्रांग होना बेहद जरूरी, आजमाएं ये खास टिप्स​

सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है गुलाब की चाय, इम्यूनिटी बढ़ाने के साथ ही घटाती है वजन

Advertisement
Back to Top