Cheer Up The Lonely Day : आपकी एक छोटी सी कोशिश बदल सकती है किसी की दुनिया

Know About Cheer Up The Lonely Day 2020 - Sakshi Samachar

हर साल 11 जुलाई को मनाया जाता है चीयर-अप द लोनली डे

अकेलेपन से जूझ रहे लोगों को नई रोशनी देना है इस दिन का उद्देश्य

आज के दिन आपकी छोटी सी कोशिशि किसी की जिंदगी बदल सकती है

हैदराबाद : अकेलेपन से हर किसी की जिंदगी कभी न कभी जूझती है। कोई उससे लड़कर बाहर आ जाता है तो कोई अपनी ताउम्र उसी अंधेरे में गुजार देता है। अकेलेपन से निकलने में कोई दवा या दुआ काम नहीं आते। अगर आते हैं तो अपने सबसे करीबी, जो हर मुश्किल घड़ी में हमें उस समस्या से लड़ने की ताकत देते हैं। आज चीयर-अप द लोनली डे है। इस दिन के बारे में बेहद कम लोग ही जानते हैं, लेकिन यह दिन उन लोगों के लिए बेहद खास है, जो अकेलेपन के अंधेरे से बाहर निकलकर जिंदगी की रोशनी में फिर से जी रहे हैं।

डॉक्टर्स का भी मानना है कि जिंदगी का सबसे बड़ा मर्ज अकेलापन है, जबकि हर मर्ज की दवा लोगों का साथ है। अकेलापन हर किसी के जीवन का एक अनिवार्य हिस्सा है। कुछ लोगों के लिए, यह अस्थायी हो सकता है, और दूसरों के लिए यह एक दैनिक संघर्ष हो सकता है। अकेलेपन से सिर्फ उम्रदराज लोग ही नहीं बल्कि युवा भी प्रभावित हैं, जो व्यक्ति के मानसिक, शारीरिक और सामाजिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

चीयर्स अप द लोनली डे का उद्देश्य

हर साल 11 जुलाई को यह खास दिन मनाया जाता है। चीयर्स अप द लोनली डे का उद्देश्य अकेलेपन के हानिकारक प्रभावों के बारे में जागरूकता फैलाना है। साथ एक-दूसरे के साथ अच्छा समय बिताएं, जिससे जीवन में खुशियां आ सके और अकेलापन दूर हो सके। आपका एक छोटा सा प्रयास किसी की जिंदगी बदल सकता है और वह फिर से हंस-बोल सकता है। लोगों में इस भाव को जगाने के लिए चीयर्स अप द लोनली डे का आयोजन किया जाता है।

छोटी सी कोशिश ला सकती है बड़ी बदलाव

यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति को जानते हैं, जो अकेला है या मुश्किल दौर से गुजर रहा है, तो आज के दिन थोड़ा समय निकालकर उससे बात करें। उसकी जिंदगी के बारे में जानने की कोशिश करें। चाहे उनका अकेलापन स्वास्थ्य के मुद्दों, वित्तीय कारणों, नुकसान के कारण दुख या व्यक्तिगत कारणों से हो, उनके प्रति सहानुभूति जतानी चाहिए। आज का दिन आप उन लोगों के साथ बिताएं जिन्हें आपके थोड़े से प्यार और ख्याल की जरूरत है। आपकी छोटी सी कोशिस उनके जीवन में बड़ा बदलाव ला सकती है। 

क्या खास करें आज के दिन

आज का दिन छुट्टी जैसा मनाएं, लेकिन घर में रहकर नहीं बल्कि ऐसे व्यक्ति के साथ जो अकेलेपन का शिकार हैं। ये आपके घर, मोहल्ले या फिर शहर में हो सकते हैं। आपको बस इतना करना चाहिए कि किसी को प्यार का एहसास हो। यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति को जानते हैं जिन्हें आपकी शख्त जरूरत हैं तो उनके साथ कुछ समय बिताएं। उन्हें उनका पसंदीदा भोजन कराएं या फिर मिलकर बनाएं, उन्हें कुछ प्रोत्साहन दें, और उन्हें बताएं कि आप उनके साथ अपना बहुत अच्छा समय बिता रहे हैं।

अगर व्यक्ति दूर रहता है, तो उन्हें यह बताने के लिए एक नोट भेजें कि आप उन्हें याद करते हैं और आप उनके बारे में सोचते हैं। या फिर उन्हें सरप्राइज गिफ्ट दें। उनके पसंद का केक या फिर फूलों का गुलदस्ता भेंजे। फिर देखिए कैसे उनकी जिंदगी भी उन फूलों की तरह महक जाती है।

जो व्यक्ति अकेलेपन का शिकार है, उसके आज के दिन अहसास कराएं कि वह अकेला नहीं है। उसके साथ कोई अच्छी सी मूवी देखें। मजेदार जोक्स सुनाएं और अच्छी किताबें साथ में पढ़ें। इसके अलावा कहीं बाहर घूमने का प्लान भी बना सकते हैं। 

Advertisement
Back to Top