आज है 'नाफरमानी' का दिन, मतलब समझ गए तो सुधर जाएगी जिंदगी

 Importance of Disobedience Day July 3, 2020 - Sakshi Samachar

नई दिल्ली: हर साल 3 जुलाई को 'डिसओबिडिएंस डे' यानी नाफरमानी का दिन मनाया जाता है। ये दिन अपने आप में कौतूहल भरा है। क्या इस दिन हर किसी को इजाजत है कि वो हुकुमउदूली करे? शायद आप ऐसा ही सोच रहे हों, जबकि ऐसा नहीं है। इस दिन का खास महत्व है जिसे समझ गए तो आपके जीवन में बड़ा बदलाव आ सकता है। 

अगर कोई आदमी हुकुम का गुलाम है तो उसकी रचनात्मकता खत्म हो जाती है। वो स्वतंत्र रूप से सोच नहीं पाता। उसका पूरा ध्यान ऑर्डर पर ही केंद्रित होता है। इसी को ध्यान में रखते हुए डिसओबिडिएंस डे की अवधारणा को स्वीकार किया गया। 

नियमों से बंधी जिंदगी से होती है बोरियत 

अगर हम अपनी दिनचर्या को आदेशों और नियमों से बांध लें तो बोरियत होगी और कई बार हम तनाव के शिकार हो सकते हैं। लिहाजा ये दिन हमें सिखाता है स्वतंत्र तरीके से सोचने की समझ। इसका मतलब ये नहीं कि आप कानून तोड़ना शुरू कर दें। बल्कि सामाजिक तौर पर आप आदेशों को तोलना शुरू करें, कि किस हद तक ये जायज और मान्य है? खासकर बच्चों को इस दिन की महत्ता समझनी होगी। डिसओबिडिएंस डे का बहाना बनाकर आपको अपने टीचर और अभिभावकों की बात नहीं मानने की आजादी नहीं मिली है। बल्कि ये दिन आपको खुद को साबित करने की चुनौती देता है। आप कुछ ऐसा बेहतर करें जो आदेशों और इंस्ट्रक्शन्स से ऊपर हो। 

डिसओबिडिएंस डे का इतिहास 

डिसओबिडिएंस दिवस का मुकम्मल इतिहास नहीं मिलता कि इस दिन को मनाने की शुरुआत कब से हुई। भारत के संदर्भ में देखा जाय तो महात्मा गांधी ने अंग्रेजों के खिलाफ सविनय अवज्ञा आंदोलन छेड़ा था। अहिंसा और सत्याग्रह से ओतप्रोत ये आंदोलन इतिहास के पन्नों में दर्ज है। वास्तव में डिस्ओबि़डिएंस डे की प्रेरणा हम इस तरह के आंदोलन से ले सकते हैं। 

डिसओबिडिएंस डे कैसे मनाएं?

डिसओबिडिएंस डे मनाने का तरीका भी खास होना चाहिए। हम गैरजरूरी कुछ सामाजिक नियमों को तोड़ने की पहल कर सकते हैं जिससे किसी को नुकसान न पहुंचे। हर आदमी अपने अपने हिसाब से इस दिन को मनाने का तरीका तय कर सकता है। आप खुद में बदलाव के लिए अपन डेली रुटीन में बदलाव करके भी इस दिवस को मना सकते हैं। इसके अलावा आज के दिन आप ऐसा कुछ खास कर सकते हैं जिसके बारे में लंबे समय से विचार कर रहे हों। अवज्ञा से संबंधित कुछ रोचक कार्टून या चित्र अपने मित्रों से भी साझा कर सकते हैं। 

Advertisement
Back to Top