कोरोना वायरस : सिर्फ हाथ पर ही नहीं होते जर्म्स और वायरस, घर की इन जगहों की सफाई भी है जरूरी

Germs viruses can also occur in these places must be cleaned   - Sakshi Samachar

इस समय पूरा विश्व कोरोना की चपेट में है

कोरोना को हराने के लिए सफाई पर ध्यान दें

हाथ ही नहीं घर की इन जगहों की भी सफाई करें 

हम जानते ही हैं कि कोरोना वायरस कैसे पूरे विश्व में मौत का तांडव कर रहा है। अब तो इसकी चपेट में हमारा देश भी आ गया है और यहां भी हर दिन कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं। पूरे देश में लॉकडाउन लगा है फिर भी कोरोना पर अब तक लगाम नहीं लग पाई है। हर कोई यही कह रहा है कि इससे बचना है तो बार-बार हाथ धोना चाहिए। यह तो सही है पर हमें यह भी समझना होगा कि जर्म्स और वायरस सिर्फ हाथ पर ही नहीं होते बल्कि घर की इन जगहों पर भी होते हैं जिनकी सफाई बेहद जरूरी है।  

तो हाथों के साथ-साथ ऐसी जगहों की भी सफाई करना बहुत जरूरी है जहां वायरस के पहुंचने की संभावना सबसे ज्यादा होती है। 

तो आइये जानते हैं कि घर की 7 सबसे गंदी जगह कौन सी है जहां रोजाना अच्छी तरह सफाई करना बेहद जरूरी है ....

- घर में आने के बाद लोगों का हाथ सबसे पहले गेट के हैंडल, नॉब और स्विच बोर्ड पर ही जाते हैं। इसके बाद भले ही आप हाथ धोकर वायरस से पीछा छुड़ा लें। मगर घर में मौजूद छोटे बच्चे या दूसरे सदस्य जब इन्हीं जगहों को छूते हैं तो वायरस और बैक्टीरिया उनके हाथों के जरिए उनके शरीर तक प्रवेश कर सकते हैं। इसलिए इनकी रोजाना दिन में 2 बार डिसइंफेक्टेंट केमिकल से सफाई करें।

- पालतू जानवरों को भले ही आप अपने घर के सदस्य जैसा प्यार दें और साफ-सफाई करें। मगर ऐसे बहुत सारे जर्म्स और वायरस हैं जो इंसानों पर तो असर नहीं करते, मगर जानवरों को बीमार कर सकते हैं और फिर बीमार जानवर के जरिए आपके घर के दूसरे सदस्यों में पहुंच सकते हैं। हाल में ही बेल्जियम से एक रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें घर की बिल्ली में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

- आप जरूरी सामान लेने के लिए घर से बाहर जाते हैं तो लौटकर भले ही हाथों को अच्छी तरह साफ करते हैं मगर कुछ एक्सपर्ट्स का मानना है कि घर में कोरोना वायरस का प्रवेश आपके कपड़ों के जरिए भी हो सकता है। हाल में ही वैज्ञानिकों ने यह भी पता लगाया है कि कपड़ों पर कोरोना वायरस कितनी देर जिंदा रह सकता है और इससे बचाव के लिए कपड़े कैसे धोने चाहिए।

- सबसे ज्यादा संदिग्धता इन दिनों नोटों और सिक्कों के जरिए कोरोना वायरस के फैलने की जताई जा रही है। पिछले दिनों देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों को सचेत किया था कि 2000 और 500 की नोट के जरिए कोरोना वायरस आ सकता है इसलिए इससे बचाव के लिए जरूरी है कि आप ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन पेमेंट मेथड का इस्तेमाल करें।

- एक शोध के अनुसार आपके टॉयलेट सीट से भी कहीं ज्यादा जर्म्स आपके मोबाइल फोन पर पाए जाते हैं। इसका कारण यह है कि मोबाइल फोन ही वह अकेली चीज है, जिसका इस्तेमाल आप दिन में सबसे ज्यादा बार करते हैं। एक व्यक्ति एक दिन में औसतन 2617 बार अपने मोबाइल को छूता है इसलिए मोबाइल की सही तरीके से साफ-सफाई जरूरी है।

-बैक्टीरिया के पाए जाने की सबसे ज्यादा संभावना आपके किचन में होती है। इसके अलावा वायरस भी तमाम खाने-पीने की चीजों, पैकेट्स और सब्जियों के जरिए आपके किचन तक पहुंच सकते हैं। आपके किचन में सबसे ज्यादा जर्म्स आपके बर्तन धोने वाले स्पॉन्ज में होते हैं। इसके अलावा किचन के सिंक, माइक्रोवेव, किचन के कपड़े, फ्रिज और कटिंग बोर्ड आदि में भी जर्म्स हो सकते हैं। इसलिए इनकी रोजाना अच्छी तरह सफाई करें।

- टॉयलेट की सफाई तो हममें से ज्यादातर लोग कर लेते हैं, मगर बाथरूम की सफाई पर अक्सर लोग कम ध्यान देते हैं। जबकि बाथरूम में भी बहुत ज्यादा जर्म्स और बैक्टीरिया होते हैं, जो आपको बीमार बना सकते हैं। इसलिए बाथरूम के कोनों, सिंक, शॉवर के हैंडल, नल आदि की अच्छी तरह सफाई करें। इसके साथ ही टूथब्रश होल्डर और साबुन रखने वाली जगह की भी रोजाना सफाई करें।

तो देखा आपने कि कैसे अपने हाथों के साथ ही घर की इन जगहों की सफाई का भी ध्यान रखना चाहिए जिससे कि हम जर्म व वायरस फ्री रह सकें।

इसे भी पढ़ें : 

कोरोना वायरस : बुजुर्गों का इस संक्रमण से ऐसे करें बचाव, अपनाएं ये खास टिप्स

जानें आखिर कोरोना वायरस और स्वाइन फ्लू में क्या है अंतर, कौन सा इंफेक्शन है ज्यादा खतरनाक

Advertisement
Back to Top