क्या रहस्यों का पर्दाफाश कर पाएगा WHO, या फिर चीन में होगी जांच की खानापूर्ति ?

 Who experts visits China to investigate corona  - Sakshi Samachar

WHO की टीम पहुंचेगी बीजिंग

कोरोना के पैदा होने की जुटाएगी जानकारी

WHO के दो एक्सपर्ट करेंगे जांच 

नई दिल्ली : दुनिया भर में लाखों लोगों की जान ले चुकी कोरोना महामारी के नाम से ही लोग खौफ खा रहे हैं । आलम ये है कि इस बीमारी के खौफ के चलते भी सैकड़ों लोगों की जान जा चुकी है। इस बीमारी को लेकर यही आम धारणा है कि इस बीमारी को फैलाने का जिम्मेदार चीन ही है। जिसने इस जानलेवा बीमारी को साजिश के तहत दुनिया भर में फैलाया है। वहीं अमेरिका तो खुल कर आरोप लगाता रहा है कि चीन कोरोना को लेकर जानकारी पर पर्दा डालता रहा है, साथ ही वह तथ्यों को भी छिपाता रहा है । 

WHO के एक्सपर्ट्स की टीम पहुंचेगी चीन

पूरी दुनिया में तबाही मचाने वाली इस बीमारी की शुरुआत कैसे हुई, इसकी जांच करने के लिये WHO की टीम  बीजिंग पहुंच कर जांच करेगी। चीन पहुंच कर WHO की टीम के एक्सपर्ट इस बात की जांच करेंगे कि इस बीमारी की शुरुआत कैसे हुई थी । टीम के सदस्य यहां दो दिन रहेंगे और नतीजे तक पहुंचने की कोशिश करेंगे । 


 
इन जांचकर्ताओं में एक एपिडिमोलॉजिस्ट है, तो वहीं दूसरा जानवरों का विशषज्ञ बताया जा रहा है । इन एक्सपर्ट की टीम ये जानने की कोशिश करेगी कि कोरोना का वायर जानवरों से इंसान में आया या फिर कोई अन्य वजह रही है । आमधारणा अब तक की मीडिया रिपोर्ट से यही है कि यह बीमारी चमगादड़ से इंसान में आई है। 

दुनिया के 120 देशों ने की थी जांच की मांग

यही वजह रही है कि चीन दुनिया भर के देशों के निशाने पर रहा है। जिसके चलते दुनिया के करीब 120 देशों ने इस वायरस के फैलने और पैदा होने की जांच करने की मांग उठाई थी । और इस दबाव के चलते WHO ने कहा था, कि वह अपनी एक टीम चीन भेजेगा ।  जिस पर चीन ने सहमति जताते हुए तर्क दिया था कि पहले इस संकट से उबरने का उसे मौका मिलना चाहिए । वहीं अब चीन में यह बीमारी लगभग खत्म हो चुकी है। 

क्या मामले की तह तक पहुंचेगी टीम ? 
गौरतलब है कि WHO पर अमेरिका ने आरोप लगाया था कि कोरोना वायरस मामले में उसने चीन का सहयोग किया है। यही वजह रही कि अमेरिका ने WHO का साथ छोड़ दिया था । ऐसे में WHO की टीम पर कितना भरोसा किया जा सकता है। क्या दो दिनों में इतनी गंभीर बीमारी के वायरस के पैदा होने के रहस्यों को जान पाना संभव है ? यह बात समझ से परे है । ऐसे में सवाल यही पैदा होता है कि कहीं ये सारा खेल महज एक खानापूर्ति तो नहीं है ?

बताते चले कि दुनियाभर में इस कोरोना महामारी के  मामले सवा करोड़ तक हो चुके हैं । करीब साढ़े पांच लाख से अधिक लोगों ने अपनी जान गंवाई है ।  अभी भी अमेरिका, ब्राजील और भारत जैसे देशों में रोज नये मामले सामने आ रहे हैं । 
 

Advertisement
Back to Top