जी-20 सम्मेलन में आज पीएम करेंगे मंथन, कोरोना से जंग जीतने पर होगी चर्चा

Pm participates in G-20 summit today fight coronavirus - Sakshi Samachar

जी-20 सम्मेलन 

कोरोना महामारी पर मंथन

दुनिया भर में आर्थिक संकट का खतरा

नई दिल्ली : गुरुवार को जी- 20 सम्मेलन में  पीएम मोदी कोरोना पर मंथन करेंगे। ये सम्मेलन सउदी अरब में होगा। सउदी अरब के सुल्तान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सउद की अध्यक्षता में होने वाले इस सम्मेलन में पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये दुनिया के नेताओं से कोरोना से निपटने के साधनों पर बात करेंगे। बतादें कि जी-20 का शिखर ऐसे वक्त में बुलाया गया है जब दुनिया के शीर्ष अर्थव्यवस्था वाले देशों की इस बात पर आलोचना हो रही है कि वे कोरोना महामारी से निपटने के लिये अपने प्रयासों में तेजी नहीं ला रहे है। 
 
बैठक में कोरोना वायरस से पैदा हुई महामारी से निपटने पर मंथन किया जाएगा। बैठक में कोरोना वायरस से प्रभावित देशों समेत स्पेन, इटली, स्विटजरलैंड और रूस जैसे देशों के शीर्ष नेता शामिल होंगे। इस बैठक  में दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के समूह, खाड़ी सहयोग परिषद, अफ्रीकी संघ, के अलावा     NEPAD जैसे क्षेत्रीय संगठन भी शामिल होंगे। सम्मेलन में 
ऑस्ट्रेलिया, अर्जेटीना, कनाडा, ब्राजील, जर्मनी, फ्रांस, और चीन और अमेरिका की राय भी अहम रहेगी। क्योकि ये सभी जी-20 देशों के समूह में शामिल हैं। सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र संघ, डब्ल्यूएचओ, विश्वबैंक, अंतरराष्ट्रीय मुद्रकोष,विश्व व्यापार संगठन जैसे शीर्ष संगठन भी शिरकत करेंगे।  

कोरोना वायरस के चलते वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हो रहे इस सम्मेलन को जी- 20 वर्चुअल नाम दिया गया है। पीएम मोदी का मानना है कि ये सम्मेलन कोरोना महामारी से निपटने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगा। वहीं माना जा रहा है कि सदस्य देश कोरोना से निपटने में राहत पैकेज की घोषणा कर सकते हैं। तो इतना तो तय माना जा रहा है कि कोरोना से निपटने में कोई विशेष ऐक्शन प्लान तैयार किया जाएगा।

इसे भी पढें :

इटली का वह गांव जहां लाशें गिनने के लिए मजबूर हैं मेयर, सेकेंड वर्ल्ड वार से भयानक है यहां के हालात

गौरतलब है कि चीन से निकली इस महामारी में दुनिया भर की नींद उड़ा रखी है। अबतक इस महामारी से 190 देशों को अपनी चपेट में लिया है और पूरी दुनिया की आर्थिक व्यवस्था पर खतरा पैदा हो गया है। 
 

Advertisement
Back to Top