अमेरिका के मुकेश अगही, एफआईए और तीन अन्य को मिला प्रवासी भारतीय सम्मान 

Mukesh Aghi, FIA, 3 others from US received Pravasi Bharatiya honor - Sakshi Samachar

अवॉर्ड पाकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं- अगही

प्रवासी भारतीय सम्मान प्राप्त कर शुक्रगुजार- एफआईए

वाशिंगटन: अमेरिका-भारत (America-India) रणनीतिक एवं साझेदारी मंच (यूएसआईएसपीएफ) के अध्यक्ष मुकेश अगही और फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशंस (FIA) के साथ अमेरिका (America) में तीन अन्य को इस साल प्रतिष्ठित प्रवासी भारतीय सम्मान (Pravasi Bharatiya honor) से सम्मानित किया गया है। कुछ साल पहले भारत केंद्रित अमेरिकी कारोबारी समर्थक समूह यूएसआईएसपीएफ का गठन करने वाले अगही को यह सम्मान कारोबार श्रेणी में मिला है। 

इस मौके पर अगही ने कहा, ‘‘यह अवॉर्ड प्राप्त करके मैं बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूं। यह टीम की कोशिश है और इससे भी बड़ी बात है कि यह अमेरिका-भारत संबंधों के महत्व को रेखांकित करता है। हमारे पास मोदी-बाइडन (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के अगले राष्ट्रपति जो बाइडन) प्रशासन के तहत इस साझेदारी को और बढ़ाने के अपार अवसर हैं जिससे न केवल दोनों देशों को बल्कि पूरी दुनिया को लाभ होगा।

इसी प्रकार भारतीय अमेरिकी अरविंद पुखान को पर्यावरण प्रौद्योगिकी श्रेणी में जबकि नीलू गुप्ता को भारतीय संस्कृति को प्रोत्साहित करने के लिए भारतीय प्रवासी सम्मान से नवाजा गया है। वहीं, डॉ. सुधाकर जोन्नालगड्डा को चिकित्सा की श्रेणी में यह सम्मान मिला है। दि फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशंस (न्यूयॉर्क, न्यूजर्सी, कनेक्टिकट) को सामुदायिक सेवा के लिए प्रवासी भारतीय सम्मान से सम्मानित किया गया है। एफआईए के अध्यक्ष अनिल बंसल ने कहा, ‘‘ हम प्रवासी भारतीय सम्मान प्राप्त कर बहुत गौरवान्वित और शुक्रगुजार हैं।

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया में APNRTS के 'क्षेत्रीय समन्वयक' चुने गये चिन्तलचेरुवु सूर्यनारायण रेड्डी

उल्लेखनीय है कि एफआईए अमेरिका में भारतीय समुदाय के सबसे बड़े संगठनों में से एक है। अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने ट्वीट किया, ‘‘अमेरिका में सभी प्रवासी भारतीय सम्मान विजेताओें को बधाई।'' गौरतलब है कि भारत सरकार द्वारा दिया जाने वाले प्रवासी भारतीय सम्मान अनिवासी भारतीयों और भारतीय मूल के लोगों को विभिन्न क्षेत्र में उनकी उपलब्धि के लिए दिया जाने वाले शीर्ष सम्मान है।

Advertisement
Back to Top