राहु-केतु बदल रहे हैं अपनी चाल, जानें क्या होगा आपकी राशि का हाल

Rahu - Ketu transit effect on 12 zodiac signs - Sakshi Samachar

राहु-केतु कर रहे राशि परिवर्तन 

बारह राशियों पर होगा कुछ ऐसा असर

ज्योतिष के हिसाब से देखा जाए तो सितंबर का महीना बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि इस महीने में कई ग्रहों का राशि परिवर्तन हो रहा है जिसका प्रभाव हरेक के जीवन पर पड़ेगा। 22 सितंबर को जहां बुध राशि परिवर्तन कर रहे हैं वहीं 23 सितंबर को राहु-केतु का राशि परिवर्तन होने जा रहा है। ज्योतिष शास्त्र में पाप ग्रह के रूप में मान्य राहु और केतु हमेशा साथ-साथ ही राशि परिवर्तन करते हैं। 23 सितंबर को राहु शुक्र की राशि वृष में और केतु मंगल की राशि वृश्चिक में आएंगे। 

ज्योतिष शास्त्र में राहु-केतु को छाया ग्रह माना गया है। राहु-केतु अगर बिगड़ जाएं तो जिंदगी को नरक बना देते हैं और अगर देने पर आएं तो गरीब को भी राजा बना देते हैं। इसलिए इन दोनों का राशि परिवर्तन कई लोगों के लिए राहत लेकर आएगा तो कुछ राशियों कों परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

मेष, कर्क, सिंह, वृश्चिक राशि वालों के लिए लाभदायी रहेगा। वहीं अन्य राशियों के लिए प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। 

राहु ग्रह 23 सितंबर को सुबह 5:28 मिथुन राशि से वृष राशि में गोचर करेगा। यहां 12 अप्रैल 2022 तक स्थित रहेगा। राहु का यह राशि परिवर्तन इस साल की सबसे बड़ी ज्योतिषीय घटनाओं में से एक होगी। इसी प्रकार, केतु का गोचर 23 सितंबर को ही सुबह 7:38 बजे धनु राशि से वृश्चिक राशि में होगा। यहां 12 अप्रैल 2022 सुबह 8:44 बजे तक रहेगा। 

राहु को सर्वाधिक बलवान माना गया है। राहू वृषभ राशि के स्वामी हैं। मिथुन राशि इनकी उच्च राशिगत राशि है तथा धनु राशि में इन्हें नीच संज्ञक माना गया है। किसी भी राशि पर भ्रमण के समय राहु 18 महीने गोचर करते हैं इसलिए फलित ज्योतिष में शनि के बाद इनके प्रभाव को सर्वाधिक महत्व दिया जाता है। इसे मंगल का छाया ग्रह माना जाता है।

राहु-केतु के राशि परिवर्तन का कई राशियों पर शुभ और अशुभ दोनों तरह का प्रभाव पड़ेगा। तो आइये जानते हैं राहु-केतु के राशि परिवर्तन का बारह राशियों पर असर ....

मेष- आपके लिए राहु का गोचर शुभ परिणामकारी रहेगा। कई क्षेत्रों में आपको शानदार परिणाम मिलने की संभावना है। इसके प्रभाव से आपके साहस में वृद्धि होगी लेकिन वैवाहिक जीवन में आप असमंजस की स्थिति में रहेंगे। धन भाव में राहु का आगमन आपके लिए बेहतरीन सफलता दिलाएगा। आकस्मिक धन प्राप्ति के योग तो बनेंगे ही, काफी दिनों का रुका हुआ धन भी वापस आने की उम्मीद रहेगी। महंगी वस्तुओं का क्रय करेंगे। मकान अथवा वाहन खरीदने का संकल्प पूर्ण हो सकता है। कार्य व्यापार में अच्छी उन्नति के योग हैं। गले से संबंधित स्वास्थ्य विकार का ध्यान रखें। कोर्ट कचहरी के मामले बाहर ही सुलझा लें तो बेहतर होगा। 

वृष- आपकी राशि में राहु का प्रवेश अप्रत्याशित परिणाम दिलाने वाला सिद्ध होगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से आपको अस्थमा अथवा वायु विकार से बचना पड़ेगा किंतु कार्य व्यापार में उन्नति होगी। नौकरी में पदोन्नति तथा नए अनुबंध की प्राप्ति के भी योग। स्थान परिवर्तन भी चाह रहे हों तो प्रयास करें। इस गोचर के प्रभाव से आपका आर्थिक जीवन प्रभावित होगा। परिवार में भी कलह की स्थिति पैदा हो सकती है। परिवार में किसी बात को लेकर मनमुटाव हो सकता है। इस समय बोलते समय सावधानी बरतें। विद्यार्थियों के लिए समय अपेक्षाकृत और अनुकूल रहेगा। 

मिथुन- आपकी राशि से बारहवें भाव में राहु का प्रवेश अधिक खर्च कारक यात्रा करवाएगा। वाहन सावधानीपूर्वक चलाएं और व्यर्थ विवाद से बचें। कोर्ट कचहरी के मामले भी बाहर ही सुलझा लें तो बेहतर रहेगा। उच्चाधिकारियों से संबंध बिगड़ने न दें। आपको शारीरिक और मानसिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपको अपनी सेहत का ध्यान रखना होगा। आपको निर्णय लेने में कठिनाई होगी। संबंधी अथवा मित्र के द्वारा आर्थिक हानि हो सकती है अतः अधिक कर्ज देने से बचें।

कर्क- आपकी राशि से लाभ भाव में राहु का गोचर आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इस स्थान पर गोचर करते हुए राहु जातक की सभी समस्याओं का निराकरण करते हैं और विषम परिस्थितियों से निकालकर उसे सफलता के सर्वोच्च शिखर पर पहुंचाते हैं। अन्य ग्रहों की भी गोचर स्थितियां आपकी सफलता के अच्छे संकेत दे रही हैं। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों से मतभेद न पैदा होने दें। कोई भी बड़ा कार्य आरंभ करना चाहें अथवा अनुबंध पर हस्ताक्षर करना चाहें तो अवसर अनुकूल रहेगा। आपके विदेश यात्रा पर जाने की संभावना बन रही है लेकिन आपके ख़र्चों में बढ़ोतरी होगी। रुका हुआ धन वापस मिल सकता है। लंबी यात्रा पर जाने की संभावना तो बन रही है लेकिन आपको सावधानी से काम लेने की आवश्यकता होगी।

सिंह- आपकी राशि से दशम भाव में राहु का गोचर आपको कुल दीपक बनाएगा। छोटे स्तर से भी कार्य करके आप सफलता की ऊंचाई पर पहुंचेंगे। इस स्थान पर राहु राजनीति के लिए सर्वश्रेष्ठ माने गए हैं इसलिए शासन सत्ता का पूर्ण सुख मिलेगा वरिष्ठ सदस्यों से संबंध बनाए रखेंगे तो कठिनाइयां स्वतः ही दूर होती जाएंगी। माता पिता के स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील रहें। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। धर्म-कर्म के मामलों में भी रुचि बढ़ेगी। आपकी आमदनी में इजाफा होगा। राहु के शुभ प्रभाव के कारण आपको अपने कार्यक्षेत्र में उपलब्धि मिल सकती है।

कन्या- आपकी राशि से भाग्य भाव में राहु का गोचर आपके लिए अनुकूल फल कारक सिद्ध होगा। सोची-समझी सभी रणनीति कारगर सिद्ध होगी। बेहतर रहेगा कि अपनी सभी योजनाओं को गोपनीय रखें और कार्य में जी जान से लग जाएं। नए कार्य व्यापार आरंभ करने वाले लोगों के लिए समय अनुकूल रहेगा ही दैनिक व्यापारियों के लिए भी लाभ के अच्छे अवसर आएंगे। विदेशी कंपनियों में सर्विस आदि के लिए आवेदन करना तो अनुकूल रहेगा ही विदेशी नागरिकता के लिए भी प्रयास कर सकते हैं। संतान संबंधी चिंता से परेशान ना हों।अध्यात्म के क्षेत्र में रुचि बढ़ेगी।

तुला- आपकी राशि से अष्टम भाव में वृषभ राशिगत राहु काफी मिले-जुले फलकारक सिद्ध होंगे। आकस्मिक धन अथवा गुप्त धन प्राप्ति का भी योग बन रहा है। हो सकता है कि कार्यक्षेत्र में आपके अपने ही लोग नीचा दिखाने की कोशिश करें ऐसे में हर समय षड्यंत्रकारियों से सावधान रहते हुए व्यर्थ विवादों से भी दूर रहना पड़ेगा। स्वास्थ्य संबंधी चिंता परेशान कर सकती है। दांपत्य जीवन में कटुता आ सकती है शादी विवाह से संबंधित वार्ता में भी कुछ विलंब हो सकता है। साझा व्यापार करने से परहेज करेंगे तो बेहतर रहेगा। आपको भाग्य की बजाय अपनी मेहनत पर ही भरोसा करना होगा क्योंकि राहु की पैनी दृष्टि आपके किस्मत के सितारों को कमजोर करेगी। चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहें। 

वृश्चिक-आपकी राशि से सप्तम भाव में राहु का गोचर आपके लिए कई तरह की सफलताओं के द्वार खोलेगा। प्रतीक्षित पड़े कार्यों का निपटारा होगा। शासन सत्ता का भी पूर्ण सुख मिलेगा। अधिकारियों से मधुर संबंध बनेंगे। शिक्षा प्रतियोगिता में शामिल होने वाले प्रतियोगियो के लिए गोचरफल अनुकूल रहेगा। व्यापारिक वर्ग के लिए गोचर और भी अनुकूल रहेगा। शादी विवाह से संबंधित वार्ता में कुछ विलंब हो सकता है। धर्म-कर्म के मामलों में रुचि बढ़ेगी। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें। 

धनु- आपकी राशि से छठे शत्रुभाव में राहु का गोचर आपको कठिन परिस्थितियों से लड़ने में मदद तो करेगा ही आने वाली सभी समस्याओं को भी हल भी करेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से सावधान रहना पड़ेगा। गुप्त शत्रु बनेंगे। अपनी ऊर्जा शक्ति का पूर्ण उपयोग करते हुए नौकरी में पदोन्नति और नए अनुबंध पर हस्ताक्षर भी हासिल करेंगे। आपके द्वारा लिए गए निर्णय तथा किए गए कार्यों की सराहना होगी। रोजगार की दिशा में किया गया हर प्रयास सफल रहेगा।  व्यापार में नुकसान उठाना पड़ सकता है। खासकर पार्टनरशिप में कार्य करना बहुत अधिक फायदे का सौदा नहीं होगा।। यह गोचर लाइफ पार्टनर से मतभेद का कारण भी बन सकता है।

मकर-आपकी राशि से पंचम भाव में राहु के भ्रमण करने के परिणाम स्वरूप आप अति विवेकशील, त्वरित निर्णय लेने वाले कुशल प्रशासक होंगे। विद्यार्थियों को शिक्षा प्रतियोगिता में भी अच्छी सफलता हासिल होगी। संतान संबंधी चिंता परेशान कर सकती है। नव दंपति के लिए संतान प्राप्ति एवं प्रादुर्भाव के भी योग बनेंगे। प्रेम संबंधी मामलों में अथवा प्रेम विवाह के मामलों में गोचर का परिणाम अनुकूल नहीं कहा जाएगा। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों अथवा बड़े भाइयों से मतभेद ना पैदा होने दें एकता बनाए रखें। राहु के गोचर से आपके कर्ज में वृद्धि हो सकती है। आपको ध्यान से आर्थिक फैसले लेने होंगे। आपके शत्रु आपके ऊपर हावी रहेंगे। उनसे सावधान रहने की आवश्यकता है। 

कुंभ- आपकी राशि से चतुर्थ भाव में राहु का गोचर काफी उतार-चढ़ाव लाने वाला सिद्ध होगा। कार्यक्षेत्र में सफलताओं के बावजूद किसी न किसी कारण से पारिवारिक कलह तथा मानसिक पीड़ा का शिकार रहेंगे। दिमाग में हर समय कुछ ना कुछ चलता रहेगा जिसके फलस्वरूप स्वभाव में भी चिड़चिड़ापन आ सकता है। मकान अथवा वाहन खरीदने का संकल्प पूर्ण होगा। मित्रों तथा संबंधियों की मदद कर कर के थक जाएंगे लेकिन उनसे अपयश ही मिलेगा। माता पिता के स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील। यात्रा के समय सामान चोरी होने से बचाएं। आपकी संतान को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। संतान को लेकर आप चिंतित दिखाई देंगे। अगर आप छात्र हैं तो उच्च शिक्षा में आपको दिक्कतें आ सकती हैं। प्रेम जीवन में समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

मीन-आपकी राशि से तृतीय भाव में राहु का गोचर आपको साहसी तथा पराक्रमी बनाएगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में भारी वृद्धि होगी। आपके लिए गए निर्णयों की सराहना भी होगी। राजनीतिज्ञों तथा शीर्ष अधिकारियों से मधुर संबंध बनेंगे। विद्यार्थियों अथवा प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए भी राहू का प्रभाव बेहतर रहेगा। विदेशी कंपनियों में भी सर्विस के लिए आवेदन करना बेहतर रहेगा। नौकरी में पदोन्नति तथा नए अनुबंध की प्राप्ति के भी योग। आपकी माता जी को शारीरिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। उनकी सेहत का ध्यान रखें। आपके सुखों में भी कमी आ सकती है। इस दौरान आपको धैर्य से काम लेना होगा।

 

Advertisement
Back to Top