इस बार शारदीय नवरात्रि है बेहद खास, 165 साल बाद बन रहा ऐसा अद्भुत संयोग, जानें कबसे होगी इसकी शुरुआत

know why this year sharadiya navratri is very important from when it will start  - Sakshi Samachar

शारदीय नवरात्रि में बन रहा 165 साल बन रहा अद्भुत संयोग

जानें कबसे शुरू होगी नवरात्रि और क्या-कुछ होगा खास 

पितृपक्ष समाप्त होने को है और इस बार पितृपक्ष के तुरंत बाद शारदीय नवरात्रि की शुरुआत नहीं होगी जैसाकि हर साल होता है बल्कि इस बार तो पितृपक्ष के एक महीने बाद नवरात्रि शुरू होगी। ऐसा अद्भुत योग 165 साल बाद बन रहा है और इस बार नवरात्रि की शुरुआत 17 अक्टूबर से होगी।  ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि इस बार पितृपक्ष के बाद अधिक मास शुरू हो जाएगा। 

पितृपक्ष 17 सितंबर को होगा समाप्त 

सर्वपितृ अमावस्या 17 सितंबर को है और इसीके साथ पितृपक्ष समाप्त हो जाएगा। इसके अगले दिन अधिक मास शुरू होगा जो 16 अक्टूबर तक चलेगा। इसके बाद 17 अक्टूबर से नवरात्रि व्रत उपवास रखे जाएंगे।165 साल बाद लीप वर्ष और अधिक मास दोनों ही 1 साल में हो रहे हैं। चातुर्मास लगने से विवाह मुंडन कर्ण छेदन जैसे मांगलिक कार्य नहीं होते। इस काल में पूजन पाठ व्रत उपवास और साधना का विशेष महत्व होता है। इस दौरान देव सो जाते हैं, देवउठनी एकादशी के बाद देव जागृत होते हैं। 

शुरू हो रहा है अधिक मास 

आश्विन महीने में अधिकमास 18 सितंबर से शुरू होकर 16 अक्टूबर तक चलेगा। इसके कारण श्राद्ध अनुष्ठान के बाद तुरंत नवरात्रि पूजन नहीं शुरू हो सकेंगे। नवरात्रि 17 अक्टूबर से शुरू होगी। इस क्रम में 26 अक्टूबर को दशहरा और 14 नवंबर को दीपावली होगी। इसके बाद 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी के साथ ही चातुर्मास समाप्त होगा।

क्यों होता है अधिकमास 

सूर्य का वर्ष 365 दिन करीब 6 घंटे का होता है जबकि एक चंद्रमा वर्ष 354 दिनों का माना जाता है। दोनों वर्षों के बीच 11 दिन का लगभग अंतर आता है। यह अंतर हर 3 वर्ष में लगभग 1 मास के बराबर हो जाता है। इसी अंतर को दूर करने के लिए हर 3 साल में एक अतिरिक्त चंद्रमास आता है, जिसे अतिरिक्त होने की वजह से अधिक मास का नाम दिया गया है।

जानें  कब से शुरू होगी नवरात्रि और किस दिन होगी किस देवी की पूजा 

नवरात्रि दिन 1: प्रतिपदा माँ शैलपुत्री पूजा घटस्थापना 17 अक्टूबर 2020 (शनिवार)

नवरात्रि दिन 2: द्वितीया माँ ब्रह्मचारिणी पूजा 18 अक्टूबर 2020 (रविवार)

नवरात्रि दिन 3: तृतीय माँ चंद्रघंटा पूजा 19 अक्टूबर 2020 (सोमवार)

नवरात्रि दिन 4: चतुर्थी माँ कुष्मांडा पूजा 20 अक्टूबर 2020 (मंगलवार)

नवरात्रि दिन 5: पंचमी माँ स्कंदमाता पूजा 21 अक्टूबर 2020 (बुधवार)

नवरात्रि दिन 6: षष्ठी माँ कात्यायनी पूजा 22 अक्टूबर 2020 (गुरुवार)

नवरात्रि दिन 7: सप्तमी माँ कालरात्रि पूजा 23 अक्टूबर 2020 (शुक्रवार)

नवरात्रि दिन 8: अष्टमी माँ महागौरी,जानिए कब से शुरू होगी नवरात्रि

नवरात्रि दिन 9: नवमी माँ सिद्धिदात्री नवरात्रि पारणा विजय दशमी 25 अक्टूबर 2020 (रविवार)

नवरात्रि दिन 10: दशमी दुर्गा विसर्जन 26 अक्टूबर 2020 (सोमवार) दुर्गा महा अष्टमी पूजा 24 अक्टूबर 2020 (शनिवार)

 

Advertisement
Back to Top