मशहूर अदाकारा निम्‍मी का 87 साल की उम्र में निधन, सिनेमा में राज कपूर की थी पहली खोज

Veteran Actress Nimmi Passes Away At 87 In Mumbai - Sakshi Samachar

हिंदी सिनेमा की दिग्‍गज अदाकारा निम्‍मी उर्फ नवाब बानू का निधन 

हिन्दी सिनेमा में राज कपूर की पहली खोज निम्मी थी

फ‍िल्‍म इंडस्ट्री निम्‍मी की खूबसूरती की कायल थी

मुंबई :  हिंदी सिनेमा में राजकपूर की पहली खोज मानी जाने वाली मशहूर अभिनेत्री निम्मी का बुधवार की शाम यहां मुंबई में हृदयगति रुक जाने से निधन हो गया। वह कुछ अरसे से बीमार चल रही थीं। सरला नर्सिंग होम में शाम छह बजे के करीब उन्होंने अंतिम सांस ली।  वह 87 साल की थीं। निम्मी के पिता मेरठ के रहने वाले थे और निम्मी का जन्म आगरा में हुआ था।

आप को बता दें कि निम्मी का असली नाम नवाब बानू था और राजकपूर जैसे अभिनेता ने उनका नाम बदलकर निम्‍मी कर दिया था। निम्‍मी की मां वहीदन बेहतरीन गायिका और अभिनेत्री थीं, वहीं उनके पिता मिलिट्री में कॉन्ट्रेक्टर थे। जब निम्‍मी नौ साल की थीं तो उनकी मां का निधन हो गया। विभाजन के बाद निम्‍मी भारत आईं। जब उन्‍होंने फ‍िल्‍मों में आने का मन बनाया तो निर्माता निर्देशक महबूब खान से उनकी मुलाकात हुई।  महबूब खान उन दिनों 'अंदाज' फ‍िल्‍म बना रहे थे। यहीं सेट पर निम्‍मी राज कपूर से मिलीं। 

कहा जाता है कि राजकपूर ने कुछ पल पहले ही अपनी नई फ‍िल्‍म 'बरसात' के लिए लीड अदाकारा के रोल में नरगिस को साइन किया था। राजकपूर निम्‍मी की खूबसूरती से बेहद प्रभावित हुए और अपनी फ‍िल्‍म में उन्‍हें सहायक अदाकारा बना दिया। 1949 में आई बरसात से निम्‍मी सिनेमा में जम गईं और सजा, दीदार, बेदर्दी, आन, दाग, आंधियां, अमर, कुंदन सहित करीब एक दर्जन फिल्मों में काम किया। 50 के दशक में टॉप एक्ट्रेस बन गईं। 

फ‍िल्‍म इंडस्ट्री निम्‍मी की खूबसूरती की कायल थी। उस जमाने में उनकी खूबसूरती का जादू फ‍िल्‍ममेकर्स के सिर चढ़कर बोलता था। निम्‍मी ने पटकथा लेखक रजा से शादी की थी। कहा जाता है कि खूबसूरती के मामले में वह उस जमाने की श्रेष्‍ठ अदाकारा मधुबाला को टक्‍कर देती थीं।
 

Advertisement
Back to Top