सुशांत सिंह राजपूत के हाउस कीपर का बड़ा खुलासा, जानें सुसाइड से पहले घर में क्या-क्या हुआ

Sushant Singh Raput House Keeper Neeraj Singh Revealed Facts On Suicide Day  - Sakshi Samachar

जब रिया के घर शिफ्ट कर गए सुशांत

14 जून को तनाव में थे सुशांत

मुंबई : दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या का मामला देश भर चर्चा का विषय बना हुआ है क्योंकि सुशांत के पिता केके सिंह ने हाल ही में पटना में ऐक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इसमें उन्होंने आत्महत्या के लिए उकसाने, चोरी, गलत तरीके से कैद करने और धोखधड़ी का आरोप लगाया था। शिकायत के आधार पर बिहार पुलिस के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं। इसी बीच सुशांत के हाउस कीपर नीरज सिंह ने चौंकाने वाले खुलासे किए है।  नीरज वो शख्स है जो उस दिन घर पर मौजूद था जिस दिन सुशांत ने सुसाइ़ड किया था। उसने सुशांत की बॉडी को पंखे से लटकते देखा था। 

पंखे से ऐसे लटक रही थी बॉडी

वहीं, सुशांत की बहन ने उसके शरीर को पंखे से उतारे जाने की बात कही थी। इसके बाद उन्होंने सुशांत की बॉडी पंखे से उतारी और तब तक सुशांत की बहन आ गई। नीरज ने बताया कि सुशांत का दरवाजा लॉक था और वो भीतर से जवाब नहीं दे रहा था और ना फोन कॉल रिसीव कर रहा था। तब सुशांत की बहन को फोन किया गया और उन्होंने कहा कि वो पहुंच रही हैं। उन्होंने कहा दरवाजा खोलने की कोशिश करो। लॉक तोड़ने वाले को बुलाया गया और दरवाजा तोड़ा गया। लेकिन दरवाजा तब नहीं खोला गया था। लॉक तोड़ने वाला चला गया। जब सिद्धार्थ ने दरवाजा तोड़ा और वो सदमे में था। वो अंदर गया और घबराया हुआ बाहर आ गया। तब नीरज ने बॉडी को पंखे से लटके देखा और उन्होंने बॉडी को पंखे से उतारा और तब तक उनकी बहन वहां पहुंच गई थीं।

नौकरी से हटाना चाहती थी रिया 

नीरज ने यह भी बताया कि "रिया ने उनसे लॉकडाउन के दौरान नौकरी छोड़ने को कहा था क्योंकि वो कचरा वाले से बिना मास्क के बात कर रहा था। लेकिन सर ने कहा कि चीजों का ध्यान रखा करो। कोई बात नहीं। उसी दिन जब रिया एक डेढ़ बजे के करीब गई थी तब 5 बजे के आसपास सुशांत की बहन आई थी और दो तीन दिन वहां रही थी।"

जब रिया के घर शिफ्ट कर गए सुशांत

उन्होंने बताया कि जब वो रिया के घर शिफ्ट कर गए क्योंकि उनका कुछ इलाज चल रहा था। उन्हें नहीं पता किस चीज का इलाज हो रहा था। रिया के भाई शोनिक आते-जाते रहते थे, कुछ दोस्त आया-जाया करते थे। उन्हें नाम नहीं पता। सारे पार्टी भी किया करते थे, वो सब मस्ती करते थे। नीरज ने रिया के कपड़े पैक किए क्योंकि उन्होंने उससे बैग पैक करने को कहा था, और फिर रिया चली गईं।"

नीरज सिंह ने कहा कि 13 जून को उन्होंने डिनर नहीं किया। उन्होंने मैंगो शेक मांगी थी। तो उन्होंने बस वही लिया। 14 जून को सुशांत अपने कमरे से बाहर आए तो वह सामान्य लग रहे थे। न तो बहुत ज्यादा दुखी और न बहुत ज्यादा खुश। बस नॉर्मल। उन्होंने ठंडा पानी मांगा था। नीरज ने उन्हें पानी दिया। और ये सुशांत के साथ उनकी आखिरी बातचीत थी।"

14 जून को तनाव में थे सुशांत

उन्होंने बताया कि ब्रेकफास्ट के बाद हमने उनसे कुछ नहीं पूछा। फिर एक घंटे बाद। कुक लंच के लिए उनसे पूछने गया। तब सुशांत का कोई जवाब नहीं आया। कुक केशव ने जब ब्रेकफास्ट के लिए पूछा तो उन्होंने कहा था कि मैं नारियल पानी, ऑरेंज जूस और केला लूंगा। बाद में सर ने सिर्फ नारियल पानी और जूस लिया... कहा कि केला मैं बाद में खाऊंगा। 14 जून को वो ठीक महसूस नहीं कर रहे थे वो थोड़े तनाव में लग रहे थे। लेकिन मुझे नहीं पता कि उन्हें किस चीज का तनाव था।"

कुक शोक कुमार खासू 

सुशांत सिंह राजपूत के साथ कुक रहे अशोक कुमार खासू को 2019 सितंबर महीने में बतौर कुक हटा दिया गया था। उन्होंने बताया कि रिया चक्रवर्ती के कहने पर उन्हें बतौर कुक हटाया गया था। कुक ने कहा, ''सुशांत सिंह राजपूत कभी भी अपने पुराने स्टाफ को यूं हटाते नहीं थे। रिया और सुशांत के मैनेजर की तरफ से मुझे मैसेज आया था कि उनकी सेवाएं अब नहीं ली जाएंगी। बाद में मुझे बताया गया कि रिया के कहने पर मुझे कुक की नौकरी से हटा दिया गया।'' कुक ने बताया कि उनके अलावा एक बॉडीगार्ड साहिल और अकाउंटेंट रजत को भी पिछले साल अक्टूबर के बाद हटा दिया गया था। 

निर्देशक रूमी जाफरी का पुलिस ने लिया बयान 

फिल्म निर्देशक रूमी जाफरी से भी एसआईटी ने बयान लिया। दरअसल, लॉकडाउन के बाद सुशांत और रिया रूमी की फिल्म में काम करने वाले थे। मार्च में उनकी बात रूमी जाफरी से हुई थी। तब सुशांत ने भी लॉकडाउन होने का हवाला दिया था। यह सुशांत और उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती की एक साथ पहली फिल्म थी। जाफरी ने बताया कि जब भी लॉकडाउन आगे बढ़ता था तो सुशांत अपसेट हो जाते थे। 

सुशांत सिंह राजपूत मामले का पूरा सच सामने लाएंगे

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा है कि फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले का पूरा सच बिहार पुलिस सामने लाएगी। हम रहस्य से पर्दा उठाकर रहेंगे। बिहार पुलिस की टीम मुंबई में कैंप की हुई है और पूरे मामले की छानबीन में जुटी है। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि बिहार पुलिस की टीम को मुंबई पुलिस ने शुरुआत में अपेक्षित सहयोग नहीं की। लेकिन पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक ने वहां बात की और आगे पूरा सहयोग का आश्वासन मुंबई पुलिस ने दिया है।

Advertisement
Back to Top