जब अच्छी- खासी जॉब छोड़ स्क्रिप्ट राइटर बन गए थे मणिरत्नम, उनकी लाइफ के 4 अनसुने किस्से

 Some Mind Blowing Facts About Film Director Maniratnam - Sakshi Samachar

 मणिरत्नम की फिल्मों में आने की नहीं थी कोई खास इच्छा

 64 साल के हुए फिल्म डायरेक्टर मणिरत्नम

नई दिल्ली : बॉलीवुड फिल्म डायरेक्टर मणिरत्नम आज अपना 64वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनका जन्म 2 जून 1956 को तमिलनाडु के मदुरै में हुआ था।  मणिरत्नम का पूरा नाम गोपाल रत्नम सुब्रमण्यम है। मणिरत्नम ने दक्षिण भारतीय फिल्मों के अलावा हिंदी फिल्में भी बनाई है। उन्होंने बॉलीवुड को 'बॉम्बे', 'दिल से' और 'गुरु' जैसी बेहतरीन फिल्में दी हैं।  मणिरत्नम का नाम देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी उनका नाम पहली कतार के फिल्मकारों में शुमार है। 

फिल्मों में आने की नहीं थी कोई खास इच्छा
मणिरत्नम की फिल्मों में आने की कोई खास इच्छा नहीं थी, लेकिन फिर भी उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने के बाद कभी भी पीछे मुडकर नहीं देखा।फिल्मों में कदम रखने से पहले उन्होंने एक कंसल्टेंट का काम किया। उन्होंने निर्देशक के रूप में अपने करियर की शुरुआत 1983 में कन्नड़ फिल्म 'पल्लवी अनु पल्लवी' से की। इस फिल्म में अनिल कपूर और लक्ष्मी लीड रोल में थे।  उनकी पहचान का अंदाजा इसी बात लगाया जा सकता है कि  कमल हसन अभिनीत उनकी तमिल फिल्म नायकन टाइम मैगजीन की सौ सर्वकालीन सर्वश्रेष्ठ फिल्मों की लिस्ट में शामिल है। 

कैसे हुई मणिरत्नम की फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री
मणिरत्नम ने एक हिंदी न्यूज वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में बताया है कि साल  1979 में  उनके दोस्त रविशंकर एक कन्नड़ फिल्म पल्लवी बना रहे थे। उनकी रिक्वेस्ट पर मैने उनकी फिल्म की स्टोरी  लिखने में मदद की थी। तब तक मैं स्क्रिप्ट के नाम पर महज अपने पिता को पैसे मंगाने के लिए लेटर ही लिखता था, लेकिन फिल्म की स्क्रिपट  लिखने के बाद मैं मोटिवेट हुआ आगे भी फिल्मों की स्क्रिप्टिंग  लिखने और फिल्मों का डायरेक्शन करने का फैसला किया। उन्होंने बताया कि फिल्मों में आने से पहले मैने एमबीए की पढ़ाई की थी और  एक कंसल्टेंट के तौर पर अच्छी-खासी नौकरी कर रहा था लेकिन कन्नड़ फिल्म के स्क्रिप्ट राइटिंग और डायरेक्शन ने मेरे जीवन की दिशा ही बदल दी।

ऐसे मिली असली पहचान
साल 1986  में तमिल फिल्म 'मोउना रागम' से मणिरत्नम को असली पहचान मिली। इस फिल्म में रेवती और मोहन लीड रोल थे जो कि सुपरहिट रही थी। इस फिल्म के लिए मणिरत्नम को नेशनल अवॉर्ड  भी मिला था। 1992 में मणिरत्नम ने फिल्म 'रोजा' का निर्देशन किया। 

एक्ट्रेस सुहासिनी से की है मणिरत्नम ने शादी
मणिरत्नम की पर्सनल लाइफ की बात करें तो उन्होंने 1988 में सुहासिनी से शादी की। सुहासिनी साउथ की फेमस एक्ट्रेस हैं। दोनों की मुलाकात 1988 में हुई और कुछ समय बाद दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया। दोनों का एक बेटा है नंदन। मणि का परिवार चेन्नई के अलवरपेट में रहता है जहां वो अपनी प्रोडक्शन कंपनी ‘मद्रास टॉकीज’ चलाते हैं। 

Advertisement
Back to Top