जब शाहरुख ने गौरी को सबके सामने कहा, आज से तुम्हारा नाम आयशा, अब बुर्का पहनो और नमाज पढ़ो

Shahrukh Khan Prank With Gauri Parents - Sakshi Samachar

शाहरुख से बेटी की शादी नहीं करना चाहते थे गौरी के माता-पिता

शादी के बाद रिसेप्शन पार्टी के दौरान शाहरुख ने किया था मजाक

शाहरुख ने सबके सामने गौरी से कहा, बुर्का पहनो और अब चलो नमाज पढ़ते हैं

मुंबई : बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान (Shahrukh Khan) और उनकी पत्नी गौरी को इंडस्ट्री के लविंग कपल में से एक माना जाता है। शादी के 29 साल बाद भी शाहरुख और गौरी की जोड़ी की खूब चर्चा होती है। इनकी शादी से जुड़े कई किस्से हैं, जो अक्सर सुनने को मिलते हैं। उन्हीं में से एक वाकया है जब शाहरुख ने शादी के बाद गौरी (Gauri Khan) से कहा था कि बुर्का पहनो और नमाज पढ़ो।

शाहरुख और गौरी दोनों एक दूसरे को दिलो जान से चाहते थे। शादी को लेकर गौरी के माता-पिता राजी नहीं थे। शाहरुख को रियल लाइफ प्यार पाने के लिए काफी पापड़ बेलने पड़े थे। शाहरुख को दामाद बनाने में सबसे अधिक ऐतराज गौरी के पिता को था। शाहरुख हमेशा चाहते थे कि उनकी शादी में गौरी के माता-पिता शरीक हों। जब वे घरवालों को नहीं मना सके तो दोनों ने कोर्ट मैरिज करने का फैसला किया। 

शाहरुख से नाराज थे पिता

गौरी पंजाबी परिवार से आती थीं। उनके माता-पिता को शुरुआती दिनों में पता नहीं था कि शाहरुख मुस्लिम हैं। लिहाजा उन्होंने एक पार्टी आयोजित की और शाहरुख को न्यौता दिया। इसी पार्टी में गौरी के माता-पिता को पहली बार पता चला कि शाहरुख मुस्लिम हैं। इसके बाद तो गौरी के पिता का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया। यहां तक कि बीच पार्टी में गौरी के पिता ने शाहरुख को निकल जाने के लिए कहा था। 

शाहरुख निकलने से पहले गौरी के घर के किचन में पहुंचे और उनकी मां का शुक्रिया अदा किया। पार्टी में बने स्वादिष्ट पकौड़े को लेकर शाहरुख ने अपनी होने वाली सास का शुक्रिया अदा किया था। शाहरुख के इसी व्यवहार से गौरी की मां उनकी कायल हो गईं। 

शाहरुख ने जब गौरी से कहा, चलो नमाज पढ़ो

पांच साल तक एक-दूसरे को डेट करने के बाद 25 अक्टूबर, 1991 को शादी कर ली। शाहरुख खान ने गौरी के परिवार वालों के साथ अपनी शादी के रिसेप्शन में एक मजाक किया था जिसके बाद वो सभी हैरान गए थे। फरीदा जलाल को दिए एक इंटरव्यू में शाहरुख खान ने बताया था कि रिसेप्शन में मैंने गौरी के परिवार को आपस में बात करते सुना कि ये मुस्लिम लड़का है, क्या गौरी का नाम बदल देगा? क्या वो मुस्लिम बन जाएगी?''

शाहरुख ने बताया, "मैं सभी की बातें सुन रहा था। मैंने अपनी प्रतिक्रिया में कहा ओके गौरी, बुर्का पहनो और अब चलो नमाज पढ़ते हैं। पूरा परिवार हैरान होकर देख रहा था कि इतनी जल्दी धर्म बदल दिया, मैंने उनसे कहा अबसे ये हर समय बुर्का पहनेगी, घर से नहीं निकलेगी और हम इसका नाम आयशा रख देंगे और वो ऐसे ही रहेगी।" बाद में सभी को पता चला कि शाहरुख मजाक कर रहे हैं और सब हंसने लगा।

Advertisement
Back to Top