बंद कमरे में तीन दिन तक पड़ी रही थी एक्ट्रेस की लाश, पेट में नहीं था अन्न का एक दाना

Know These Facts About Bollywood s Most Glamorous Heroine Parveen Babi - Sakshi Samachar

फिल्म चरित्र से परवीन ने किया था बॉलीवुड में डेब्यू

डिप्रेशन समेत कई बीमारियों की शिकार थी परवीन 

भूख की वजह से गई थी परवीन की जान

तीन दिन तक फ्लैट मे पड़ी रही थी परवीन की लाश  

नई दिल्ली :   70 के दशक की सबसे खूबसूरत एक्ट्रेस परवीन बाबी की आज 71वीं बर्थ एनिवर्सरी है। वे हमेशा अपने बेधड़क और बिंदास अंदाज के लिए जानी जाती हैं। रुपहले पर्दे पर परवीन का आगाज जितना खूबसूरत था वहीं उनकी निजी जिंदगी काफी रहस्यमयी रही। दौलत और शोहरत की बुलंदियों को छूने वाली इस अभिनेत्री की  मौत भूख से हुई। तीन दिनों तक तो किसी ने उनकी खैरखबर तक नहीं ली थी। पोस्टमार्स्टम रिपोर्ट से पता चला कि उनके पेट में अन्न का एक दाना नहीं है। शायद ही किसी अभिनेत्री के हिस्से में ऐसा दर्दनाक अंत आया होगा। उन्हें बॉलीवुड की ऐसी अदाकारा के नाम पर याद किया जाता है, जो कभी भी परंपरागत ढर्रे पर चली ही नहीं। वे अपने बोल्ड और खास अंदाज के जरिये ग्लैमरस गर्ल बन गई।

माता-पिता की इकलौती संतान थी परवीन

परवीन का  जन्म 4 अप्रैल 1949 को गुजरात के जूनगाढ़ रियासत  से जुड़े वली मोहम्मद खान के यहां हुआ। परवीन खान साहब की इकलौती संतान थी और उनकी शादी के चौदह साल बाद परवीन का जन्म हुआ। लिहाजा घर में  शहनाइयां बजाई गईं। हालांकि वे जब  सिर्फ 10 साल की थीं तभी उनके अब्बू का इंतकाल हो गया। इसके बाद धीरे -धीरे परवीन बड़ी होती चली गईं। इस दौरान उन्होंने अंग्रेजी में बीए किया।

टाइम मैग्जीन के कवर पेज पर मिली जगह

1972 में मॉडलिंग की दुनिया में ऐसा तहलका मचाया कि महज चार सालों में ‘टाइम’ मैगजीन के कवर पेज पर उन्हें जगह मिली। इस दौरान साल 1973 में  फिल्मकार बीआर इशारा की नजर बाबी पर पड़ी।  उन्होंने तुरंत उन्हें अपनी फिल्म ‘चरित्र’ के लिए साइन कर लिया। हालांकि, ये फिल्म फ्लॉप रही, लेकिन देखते ही देखते बाबी डायरेक्टर्स की पहली पसंद बन गईं। एक साल बीत जाने के बाद साल 1974 में फिल्म मजबूर आई और इसमे उनके साथ अमिताभ बच्चन थे। इस फिल्म  ने उन्हें हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में ग्लैमरस अभिनेत्री के तौर पर स्थापित कर दिया। 

डिप्रेशन समेत कई बीमारियों की  शिकार थी परवीन
 परवीन बाबी की जिंदगी भी तन्हाई और दर्द से भरी थी। उन्हें जीवन में सफलता, शोहरत, नाम, पैसा सबकुछ मिला, लेकिन कोई ऐसा साथी नहीं मिला, जिसके साथ वे ये सब कुछ बांट सकती थीं। ऐसे में वे डिप्रेशन का शिकार हो गईं। वह सिजोफ्रेनिया नाम की मानसिक बीमारी से पीड़ित थीं। उन्हें डायबिटीज और गैंगरीन भी था। इस वजह से उनकी किडनी और शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।

शादीशुदा मर्दों के लिव इन में रहती थीं परवीन
 परवीन बॉबी ने कभी शादी नहीं की, लेकिन शादीशुदा मर्दों के साथ उनके संबंध काफी चर्चा में रहे। डैनी डेन्जोगपा, महेश भट्ट और कबीर बेदी के साथ उनके संबंधों के बारे में आज भी बातें की जाती है।

करियर में की 50 फिल्में
सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के साथ उनकी जोड़ी ने कई हिट फ़िल्में दीं, जिनमें 'अमर अकबर एंथनी', 'दीवार', 'शान', 'ख़ुद्दार', 'काला पत्थर', 'सुहाग', 'नमक हलाल' जैसी फ़िल्में शामिल हैं। 1973 में फ़िल्म 'चरित्र' के साथ अपनी फ़िल्मी यात्रा शुरू करने वाली परवीन ने लगभग 50 फ़िल्मों में अभिनय किया। उनकी आखिरी फिल्म 1988 में आई ‘आकर्षण’ थी।

Advertisement
Back to Top