ऐसी एक्ट्रेस जो नहीं करना चाहती थी एक्टिंग, पर पहली ही फिल्म ने 'ऑस्कर' जीता और सब कुछ बदल गया

bollywood actress freida pinto birthday special  - Sakshi Samachar

बॉलीवुड एक्ट्रेस फ्रीडा पिंटो 

फ्रीडा पिंटो बर्थ डे स्पेशल 

कभी-कभी ऐसा भी होता है कि जो हम नहीं करना चाहते हम वही करते भी हैं और उसीमें नाम भी कमाते हैं। जी हां, ऐसा ही कुछ एक्ट्रेस फ्रीडा पिंटो के साथ हुआ। एक समय ऐसा भी था जब फ्रीडा एक्टिंग और मॉडलिंग नहीं करना चाहती थी, अपनी मां के कहने पर उन्होंने एक्टिंग और मॉडलिंग की और फिर पहली ही फिल्म ने इतने 'ऑस्कर'जीते कि उन्होंने फिर कभी मुड़कर नहीं देखा। 

मॉडलिंग और एक्टिंग की दुनिया में नाम कमाने वाली अभिनेत्री फ्रीडा पिंटो आज किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। फ्रीडा का जन्म 18 अक्तूबर 1984 को मुंबई में हुआ था। इस साल फ्रीडा अपना 36वां जन्मदिन मनाने जा रही हैं। फ्रीडा ने पहली ही फिल्म से इंडस्ट्री में अच्छा खासा नाम कमा लिया था। उनकी पहली फिल्म 'स्लमडॉग मिलेनियर' ने उन्हें पहचान दिला दी थी। 

फ्रीडा का जन्म मुंबई के कस्बे मैंग्लोर में हुआ था। उनका परिवार मेंग्लोरीयन कैथोलिक मूल का है। फ्रीडा फिल्मों और मॉडलिंग में कभी आना ही नहीं चाहती थीं लेकिन अपनी मां के कहने पर उन्होंने मॉडलिंग करना शुरू किया। फिल्मों में डेब्यू से पहले फ्रीडा पिंटो ने चार साल तक मॉडलिंग की। उन्होंने एक अंग्रेजी अंतरराष्ट्रीय ट्रेवल शो के लिए एंकरिंग भी की। फिल्मों में डेब्यू के साथ ही उनकी पहली ही फिल्म को आठ ऑस्कर पुरस्कार मिले हैं।

फ्रीडा भारतीय शास्त्रीय नृत्य के विभिन्न रूपों के साथ साथ साल्सा में भी प्रशिक्षित हैं। पिंटो ने चुइंगगम, स्कोडा, वोडाफोन भारत, एयरटेल जैसे जानेमाने उत्पादनों के लिए टीवी और प्रिंट विज्ञापनों में भी काम किया। एक इंटरव्यू के दौरान फ्रीडा ने बताया था कि वह कभी भी मॉडलिंग या एक्टिंग नहीं करना चाहती थीं। फ्रीडा का सपना एक 'बकार्डी शॉट सर्वर' बनने का था। वह लोगों को ड्रिंक सर्व करना चाहती थीं लेकिन मां की सख्ती से मना करने पर फ्रीडा ने कुछ और करने का फैसला किया।

इसके बाद फ्रीडा को मां ने ही सलाह दी कि उन्हें लोगों का मनोरंजन करना अच्छा लगता है इसीलिए इस क्षेत्र में काम करना चाहिए। इसके बाद फ्रीडा ने मॉडलिंग शुरू की। मॉडलिंग से पहले फ्रीडा ने एक अमेरिकी कार्टून कैरेक्टर ला-ला का भी किरदार निभाया था। फ्रीडा ने साल 2008 में 'स्लमडॉग मिलेनियर' से डेब्यू किया। इस फिल्म ने साल 2009 में सर्वोत्तम फिल्म के लिए एकेडमी पुरस्कार जीता।

फ्रीडा पिंटो के करियर की गाड़ी स्लमडॉग मिलेनियर के बाद चल पड़ी। उन्होंने इसके बाद लगातार कई फिल्मों में काम किया और इंटरनेशनल स्टार बन गईं। 

फ्रीडा की प्रमुख फिल्मों में 'राइज ऑफ दि प्लैनेट ऑफ एप्स', 'माइकल विंटरबॉटम', 'तृष्णा', 'डे ऑफ दि फाल्कन', 'इम्मोर्टल्स' आदि में नजर आ चुकी हैं।
 

Advertisement
Back to Top