फिल्मों में आने से पहले BPO में काम कर चुका है गैंग्स ऑफ वासेपुर का ये एक्टर, मेरठ से की पढ़ाई

Actor Zeishan Quadri Who Face Charge Of Fraud Case Know Intresting Life Facts - Sakshi Samachar

जीशान पर डेढ़ करोड़ की धोखाधड़ी का आरोप

 वासुपेर में हुआ जन्म, मेरठ से की है बीबीए की पढ़ाई

आज भी जीशान को पसंद है नोएडा की ठेलेवाली नाइट

मुंबई : मुंबई पुलिस ने एक्टर और राइटर जीशान कादरी (Zeishan Quadri) के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। उनके खिलाफ यह कंप्लेन मुंबई के अंबोली पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई है। पुलिस ने जीशान पर धारा 420 के तहल धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।  उनके एक महिला सहकर्मी पर भी आरोप लगा है। हालांकि एफआईआर में सिर्फ कादरी का ही नाम शामिल है।

क्या है जीशान पर आरोप ?
दरअल उनके खिलाफ एक प्रोड्यूसर की कंप्लेन ने मामला दर्ज कराया है। पुलिस को दी गई कंप्लेन में प्रोड्यूसर कादरी पर आरोप लगाया है कि उन्होंने जीशान एक वेब सीरीज के लिए 1.5 करोड़ रुपये लिए। इसके बाद कोई वेब सीरीज ना बना कर धोखा दिया। इस मामले पर जीशान कादरी की ओर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। बता दें कि जीशान Friday to friday एंटरटेनमेंट नाम की एक कंपनी चलाते हैं। इसी कंपनी पर 1.5 करोड़ रुपये की हेराफेरी का आरोप लगा है।


जीशान कादरी अपनी फैमिली के साथ। 

कौन हैं जीशान कादरी ?
जीशान कादरी एक एक्टर और राइटर हैं है।  जीशान का असली नाम  Zeishan Qalim Khan है। उनका जन्म बिहार के वासेपुर में हुआ है। वासेपुर अब झारखंड के धनबाद जिले में पड़ता है। उनका जन्म 17 मार्च 1983 को हुआ है। उनकी शुरूआती स्कूली पढ़ाई तो वासेपुर से हुई है। लेकिन आगे की पढ़ाई उन्होंने मेरठ आकर पूरी की। उन्होंने बीबीए की पढ़ाई की है।  इसके बाद वे नोएडा चले आए। यहां कुछ सालों तक उन्होंने एक कॉल सेंटर में भी काम किया। लेकिन जीशान का मन नौकरी में नहीं लगा और साल 2009 में उन्होंने नौकरी से रिजाइन दे दिया।  इसके कुछ ही दिनों बाद वे मुंबई के लिए निकल पड़े। दऱअसल जीशान को बचपन से ही फिल्मों से काफी लगाव था। इस वजह से उन्होंने मायानगरी का रूख कर लिया।  लेखक और डायरेक्टर बनना चाहते थे लिहाजा मुंबई पहुंच गए।   


जीशान कादरी।

दोस्त के यहां गुजारे पड़े दिन
जीशान मुंबई तो पहुंच गए थे, लेकिन वे रहे कहां इसलिए अपने दोस्त के पास चेम्बूर पहुंच गए। यहां कुछ दिन तक बिताने के बाद अंधेरी में शिफ्ट हो गए। यहां आने के बाद उन्होंने काफी फिल्में देखी। इसी दौरान उनके दिमाग में वासेपुर मूवी का आइडिया आया। इसके बाद फिर आया लिखने का आईडिया। लेकिन उनके सामने एक समस्या थी कि फिल्म की स्क्रिपट  तो लिख जाएगी लेकिन पिक्चर बनाएगा कौन। इसके बाद उनके दिमाग में  अनुराग कश्यप से मिल कर काम हो सकता है। इसके बाद वे अनुराग कश्यप से मिलने के पास पहुंच गए। हालांकि उनसे मुलाकात के लिए जीशान कादरी को काफी चक्कर काटने पड़े।


अनुराग कश्यप के साथ जीशान कादरी ( फाइल फोटो)

कैसे मिली थी जीशान को गैंग्स ऑफ वासेपुर 
जीशान एक दिन एक प्ले ( नाटक) देखने पृथ्वी थिएटर पहुंचे। इस प्ले में कल्कि कोचलीन प्ले कर रही थी। फिर क्या था प्ले खत्म होने के बाद अनुराग ने जीशान से मुलाकात की।  वहीं अनुराग कश्यप मिल गए। अनुराग कश्यप को फिल्म का आईडिया दिया। अनुराग कश्यप बोल दिए बकवास है। झूठ-मूठ का कहानी बना रहे हो। लेकिन तुरंत सामने ढेर सारा पेपर कटिंग पटक दिया। अनुराग कश्यप ने बोला जो भी है दिमाग में सब लिख दो। जीशान ने लिख दिया और इसके बाद गैंग्स ऑफ वासेपुर तैयार हो गई।

आज भी जीशान को पसंद है नोएडा की ठेलेवाली नाइट
उन्होंने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि  "नोएडा से मेरा व्यक्तिगत लगाव है। जब मैं कई साल पहले कुछ महीनों के लिए यहां काम किया था, तो मैं यहां की नाइटलाइफ़ से काफी प्यार करता था।  मेरा मतलब पब या डिस्को से नहीं है, लेकिन नोएडा में सड़क के किनारे विक्रेताओं - ठेले-वाली रात की लाइफ। मैं सेक्टर 62 में जाऊंगा और परांठे और मोमोज खाऊंगा। आज भी, अगर मैं नोएडा जाता हूं , तो मैं वहां जाने के लिए प्लान करता हूं। वास्तव में, वहां के कुछ वेंडर मुझे पहचानते हैं। जब भी उनसे मिलता हूं तो वे कहते है बड़े दिन बाद आये। वहाँ माज़ा आता है।"

 

Advertisement
Back to Top