जन्मदिन विशेष: पीयूष गोयल ने बीजेपी के कोषाध्यक्ष का पद क्या छोड़ा, कोई दूसरा फिर उसे ले ही न पाया

Know about the Railway Minister Piyush Goyal 56th birthday - Sakshi Samachar

13 जून 1964 को मुंबई में जन्मे पीयूष गोयल भारत के वर्तमान रेलमंत्री और कोयला मंत्रालय, भारत सरकार के प्रमुख मंत्री हैं। वें भूतपूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व. वेदप्रकाश गोयल के पुत्र और भारतीय जनता पार्टी के राजनेता हैं।

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल आज 56 साल के हो गए हैं। पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट, मैनेजमेंट कंसल्टेंट और राजनेता पीयूष गोयल की पत्नी सीमा गोयल है। उनके दो बच्चे हैं। एक बेटा और एक बेटी। आज उनके 56वें जन्मदिन के मौके पर जानते है उनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातें...

  1. पीयूष गोयल के पिता वेद प्रकाश गोयल भी बीजेपी के कद्दावर नेता में शुमार थे और वे अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में मंत्री थे।
  2. 56 साल के पीयूष गोयल ने साल 2018 के मई-अगस्‍त महीने तक ने अरुण जेटली की अनुपस्‍थ‍िति में वित्त मंत्रालय का कार्यभार भी संभाला था और तब जेटली किडनी ट्रांसप्‍लांट के लिए छुट्टी पर गए हुए थे।
  3. साल 2014 में केंद्रीय मंत्री बनने से पहले पीयूष भाजपा के कोषाध्‍यक्ष भी थे। खास बात यह है कि पार्टी के लिए यह पद उनके पिता ने भी संभाला गया था।
  4. पीयूष की देश के कॉरपोरेट घरानों में भी तगड़ी पकड़ है। इनमें सबसे ख़ास बात यह है कि उनके बाद बीजेपी ने अभी तक कोई नया कोषाध्‍यक्ष नहीं चुना है।
  5. गोयल साल 2001 से 2004 तक स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया और 2002 से 2004 तक बैंक ऑफ बड़ौदा के बोर्ड मेंबर (सरकारी नुमाइंदगी) भी रहे हैं।
  6. साल 2016 में पीयूष गोयल राज्‍यसभा सांसद भी बने थे। वे ऊपरी सदन में महाराष्‍ट्र से भाजपा उम्‍मीदवार के तौर पर पहुंचे थे।
  7. वर्तमान मोदी सरकार और पिछली मोदी सरकार में रेल मंत्री पीयूष राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) के तौर पर ऊर्जा मंत्रालय और कोयला मंत्रालय (2014-2017) तथा खनन मंत्रालय (2016-2017) का कामकाज भी संभाल चुके हैं।
  8. इन दिनों अक्सर चर्चा में बने रहने वाले पीयूष गोयल सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहते हैं। लॉकडाउन के दौरान भारतीय रेल ने जिन गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी करवाई, पीयूष ने उन सभी की डिलीवरी के लिए भारतीय रेल का ट्विटर के जरिये धन्यवाद किया।
  9. यही नहीं, एक भूखे बच्चे के लिए जब आरपीएफ जवान चलती ट्रेन के साथ दौडते हुए उसकी मां तक दूध का पैकेट पहुंचाता है, तब भी वह इस जवान की तारीफ करते हुए उसकी वीडियो ट्वीट करते हैं।
  10. भारतीय रेल ने उनके राज में लॉकडाउन के बाद प्रवासी मजदूरों की समस्याओं के समझते हुए मनरेगा के तहत रेलवे में काम देने की बात भी की। ऐसे कितने ही अन्य कार्य पीयूष गोयल और उनकी टीम अक्सर करते रहते हैं।
Advertisement
Back to Top