बुधवार को मनोकामना पूर्ति के लिए करें ये खास उपाय, प्रसन्न होंगे लंबोदर और देंगे शुभाशीर्वाद

wednesday special tips to please lord ganesh for prosperity - Sakshi Samachar

बुधवार के भगवान गणेश की विशेष पूजा होती है

इस दिन कुछ खास उपाय भी किये जाते हैं 

यह तो हम जानते ही हैं कि हर भगवान को सप्ताह का एक दिन समर्पित है और उस दिन उनकी विशेष पूजा की जाती है। इसी क्रम में बुधवार का दिन भगवान गणेश का होता है। इस दिन विधि-विधान से भगवान गणेश की पूजा की जाती है। गणेश भगवान प्रथम पूजनीय देव हैं। किसी भी शुभ कार्य से पहले गणेश भगवान की पूजा का विधान है। भगवान गणेश की पूजा के बाद ही शुभ कार्यों की शुरुआत की जाती है। 

कहते हैं कि गणेश की संकल्प अनुसार साधना करने से विघ्नहर्ता बिगड़ी बना देते हैं। भगवान गणेश स्वयं रिद्धि-सिद्धि के दाता व शुभ-लाभ के प्रदाता हैं। वे भक्तों की बाधा, संकट, रोग-दोष को दूर करते हैं। 

आइए यहां जानते हैं कि बुधवार के दिन क्या करने से भगवान गणेश प्रसन्न होते हैं......

- भगवान गणेश को लाल सिंदूर बहुत पसंद होता है। भगवान गणेश को स्नान कराने के बाद उन्हें लाल सिंदूर लगाएं। उसके बाद अपने माथे में भी लाल सिंदूर का तिलक लगाएं। ऐसा आप प्रतिदिन भी कर सकते हैं। बुधवार को ऐसा करने से भगवान गणेश के आशीर्वाद से आपको हर क्षेत्र में सफलता मिलेगी।

- बुधवार का दिन भगवान गणेश की पूजा का दिन होता है। इस दिन भगवान गणेश को दुर्वा अर्पित करें। गणेश भगवान को दुर्वा प्रिय होता है। आप प्रतिदिन भी भगवान गणेश को दुर्वा अर्पित कर सकते हैं। ऐसा करने से भगवान गणेश प्रसन्न होते हैं और मनोवांछित फल देते हैं।

-भगवान गणेश को लाल फूल चढ़ाने चाहिए। अगर लाल फूल चढ़ाना संभव नहीं है तो आप कोई और फूल भी चढ़ा सकते हैं। बस इस बात का ध्यान रखें भगवान गणेश की पूजा में तुलसी का प्रयोग नहीं किया जाता है।

- बुधवार को भगवान गणेश की आरती जरूर करें। ऐसा करने से कार्यों में किसी भी तरह की रुकावटें नहीं आती हैं।

- गणेश भगवान को लड्डू, मोदक बहुत पसंद होते हैं। बुधवार के दिन गणेश भगवान को लड्डू, मोदक का भोग लगाना चाहिए। आप अपनी इच्छानुसार भी भगवान को सात्विक भोजन का भोग लगा सकते हैं।

वहीं बुधवार के दिन विशेष कामना के लिए विशेष उपाय भी कर सकते हैं ....
 
- विवाह के लिए : 10 दिन तक ॐ ग्लौम गणपतयै नमः की 11 माला तथा गणेश स्तोत्र का पाठ नित्य करें। मोदक का भोग लगाएं।

- भूमि प्राप्ति के लिए : 10 दिन तक संकटनाशन गणेश स्तोत्र एवं ऋणमोचन मंगल स्तोत्र के 11 पाठ करें।

- घर के लिए : 10 दिन तक श्रीगणेश पंचरत्न स्तोत्र एवं भुवनेश्वरी चालीसा अथवा भुवनेश्वरी स्तोत्र का पाठ करें।

- संपत्ति प्राप्ति के लिए : 10 दिन नियमित श्री गणेश चालीसा, कनकधारा स्तोत्र तथा लक्ष्मी सूक्त का पाठ करें।

- धन-समृद्धि के लिए : गणेश स्तोत्र का पाठ तथा कुबेर यंत्र के पाठ के साथ ॐ श्रीं ॐ ह्रीं श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीं क्लीं वित्तेश्वराय नमः मंत्र की 11 माला नित्य 10 दिन करें।

- नौकरी प्राप्ति के लिए : 10 दिन विघ्ननाशक गणेश स्तोत्र का पाठ करें।

इसे भी पढ़ें : 

अंगारकी चतुर्थी पर यूं करें गणेशजी की पूजा और पाएं सुख-संपत्ति का वरदान, जानें महत्व, पूजा विधि व मुहूर्त

जानें अंगारकी चतुर्थी पर गणेशजी को प्रसन्न करने के लिए क्या करें और क्या न करें, सुनें ये व्रत कथा

Advertisement
Back to Top