यूं सूर्यास्त के बाद मंगलवार को करेंगे बजरंगबली की पूजा, तो मिलेगा मनोवांछित फल

Significance of hanuman puja on tuesday - Sakshi Samachar

आज के समय में हर कोई किसी न किसी समस्या से परेशान है। किसी को बडी समस्याओं का सामना करना पडता है तो किसी को छोटी-छोटी समस्याएं परेशान करती है। इन समस्याओं से आपको निजात हनुमान जी दिला सकते हैं क्योंकि इनकी साधना अति सरल एवं सुगम है चूंकि वह बाल ब्रह्मचारी हैं इसलिए इनकी साधनाओं में ब्रह्मचारी व्रत अवश्य लेना चाहिए।

माना जाता है कि कलयुग में हनुमानजी की उपासना जल्द ही मनोकामनाएं पूर्ण कर देती है लेकिन हनुमान जी की पूजा करते समय साफ-सफाई और पवित्रता का विशेष ध्यान रखना अनिवार्य है।

किसी भी प्रकार की अपवित्रता नहीं होनी चाहिए। जब भी पूजा करें, तब हमें मन से और तन से पवित्र हो जाना चाहिए। पूजन के दौरान गलत विचारों की ओर मन को भटकने न दें।

यह कुछ सामान्य सावधानियां हैं, जो हनुमानजी का उपाय करते समय ध्यान रखनी चाहिए।

माना जाता है कि सूर्यास्त के बाद हनुमान जी की पूजा करने से वह जल्द प्रसन्न होते है।

मंगलवार को मंगल ग्रह का दिन भी माना जाता है। इस दिन हनुमान जी की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है।

जानें हनुमानजी को प्रसन्न करने के खास उपाय ...

शाम को सूर्यास्त के बाद हनुमानजी के मंदिर या घर में बने मंदिर में हनुमानजी की मूर्ति के सामने साफ आसन पर बैठें और फिर सरसों के तेल का चैमुखा दीपक जलाएं।

दीपक लगाने के साथ ही अगरबत्ती, पुष्प आदि अर्पित करें। सिंदूर, चमेली का तेल चढ़ाएं। दीपक लगाते समय हनुमानजी के मंत्रों का जप करना चाहिए।

ऊँ रामदूताय नम:

ऊँ पवन पुत्राय नम:

इन मंत्रों के बाद हनुमान चालीसा का जप करें।

इसे भी पढ़ें : 

हर दिन पूजा के बाद जरूर करें ये काम, मिलेगा शुभ फल

मनोवांछित फल पाने के लिए यूं शनिवार को शनिदेव के साथ करें बजरंगबली को प्रसन्न 

ये आसान उपाय करके देखिये कि कैसे आपकी सारी इच्छाएं पूर्ण होती है।

Advertisement
Back to Top