शुक्रवार विशेष : ऐसे करेंगे मां लक्ष्मी की पूजा तो धन-धान्य से भर जाएंगे भंडार

friday laxmi puja tips to get rid of financial crisis - Sakshi Samachar

शुक्रवार को विशेष रूप से लक्ष्मी पूजा होती है

शुक्रवार को कुछ खास उपाय भी किये जाते हैं 

हिंदू मान्यता के अनुसार शुक्रवार को लक्ष्मी का पूजन करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और घर में धन की वर्षा होती है। हिंदू धर्म में शुक्रवार को मां लक्ष्मी का दिन माना जाता है। मान्यता है कि इस दिन लक्ष्मी पूजन से धन की प्राप्ति होती है इसलिए वे लोग जो आर्थिक तंगी का सामना कर रहे होते हैं शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी का विशेष रूप से पूजन करते हैं। इस‍ दिन व्रत रखने का भी प्रावधान है।  

शास्त्रों में लक्ष्मी को चंचला कहा गया है। चंचला का मतलब है ऐसी देवी जिनका किसी एक स्थान पर अधि‍क समय तक रहना तय नहीं। वे चंचल हैं इसलिए एक स्थान पर ज्यादा नहीं रूकतीं तभी तो कहते हैं न धन का क्या है आज आपको पास अपार है कल हो सकता है कि बिलकुल न हो... 

इसलिए धन को अपने पास स्थाई बनाने के लिए मां लक्ष्मी का पूजन कर उन्हें प्रसन्न रखा जाता है, ताकि वे कहीं और न जाएं। इसके लिए हिंदू धर्म में कई उपाय, पूजन, आराधना और मंत्र-जाप आदि का विधान है। 

मां लक्ष्मी से जुड़ी पौराणिक मान्यताएं 

- मां लक्ष्मी समुद्र-मंथन से निकली थीं। मंथन से पहले सभी देवता गरीब और ऐश्वर्य विहीन थे। समुद्र मंथन से लक्ष्मी के प्रकट होने के बाद इंद्र ने महालक्ष्मी की स्तुति की। इसके बाद महालक्ष्मी के वरदान के बाद उन्हें धन प्राप्त हुआ। 
- ऋषि विश्वामित्र के कठोर आदेश अनुसार ही लक्ष्मी साधना को गोपनीय एवं दुर्लभ रखा जाता है। कहते हैं कि मां लक्ष्मी की साधना को गुप्त रखना चाहिए। 
- शास्त्रों में महालक्ष्मी के आठ स्वरुपों का वर्णन है। मां के इन स्वरुपों को जीवन की आधारशीला माना गया है।

मां लक्ष्मी के ये नाम बनाएंगे सारे बिगड़े काम...

- भगवान विष्णु के मंत्र का 108 बार जप करें.मंत्र: ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर। भूरि घेदिन्द्र दित्ससि। ॐ भूरिदा त्यसि श्रुत: पुरूत्रा शूर वृत्रहन्। आ नो भजस्व राधसि। यदि आप चाहे तो भगवान विष्णु के नामों का जप भी कर सकते है।

- शुक्र ग्रह के लिए हीरा, चांदी, चावल, मिसरी, सफेद कपड़ा, दही, सफेद चंदन आदि चीजों का दान भी किया जा सकता है। किसी गरीब व्यक्ति को या किसी मंदिर में दूध का दान करें।

मां लक्ष्मी के पूजन से जीवन बनेगा वैभवशाली

- शुक्रवार को किसी विवाहित स्त्री को सुहाग का सामान दान करें. सुहाग का सामान जैसे चूड़ियां, कुमकुम, लाल साड़ी इस उपाय से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती है।

- शिवलिंग पर दूध और जल चढ़ाएं। साथ ही ॐ नमः शिवाय मंत्र का जप करें। मंत्र का जप कम से कम 108 बार करना चाहिए। जप के लिए रुद्राक्ष की माला का उपयोग करना चाहिए।

शुक्रवार को ऐसे करें लक्ष्मी पूजा 

– घर में ऐसी तस्वीर लगाएं जिसमें मां लक्ष्मी के हाथों से धन गिर रहा है। अगर आपके हाथों में पैसा नहीं रुकता और बहुत ज्यादा खर्च होता है तो ऐसी तस्वीर लगाएं जिसमें मां लक्ष्मी खड़ी हों और उनके हाथों से धन गिर रहा हो।

– मां की तस्वीर के सामने दीया जलाएं। मां लक्ष्मी के लिए हमेशा घी का दीया ही जलाएं।

– मां लक्ष्मी को इत्र चढ़ाएं और उसी इत्र का नियमित प्रयोग करें।

– अगर बेवजह धन का ज्यादा खर्च हो रहा है तो मां के चरणों में हर दिन एक रुपये का सिक्का अर्पित करें और उसे जमा कर महीने के अंत में किसी सौभाग्यवती स्त्री को दे दें।

– मेष, सिंह और धनु राशि के लोगों को वरलक्ष्मी के स्वरूप की पूजा करनी चाहिए।

मां लक्ष्मी की आरती:

अगर आप मां लक्ष्मी की हर दिन विधिवत पूजन नहीं कर पा रहे हैं तो हर शुक्रवार मां लक्ष्मी की आरती का पाठ करें। ऐसा करने से आपके सारे पाप नाश हो जाएंगे और मां की कृपा प्राप्त होगी।

इसे भी पढ़ें : 

कुछ ऐसे होते हैं मई में जन्मे लोग, ये होती है इनकी खूबियां

जानें किस देवता को प्रिय है कौन-सा फूल, इसे चढ़ाएंगे तो पूरी होगी मनोकामना

Advertisement
Back to Top