अगर घर की इस दिशा में रखेंगे डस्टबिन तो हो जाएंगे कंगाल, जानें इससे जुड़े वास्तु नियम

don't put dustbin in this place know vaastu tips  - Sakshi Samachar

घर की इस दिशा में भूलकर भी न रखें डस्टबिन

यहां जानें डस्टबिन से जुड़े वास्तु नियम 

घर ऐसी जगह होती है जहां हम दिन भर के काम के बाद आते हैं, सुकून के पल बिताते हैं, अपने अपनों के साथ रहते हैं और चाहते हैं कि हमारा घर खुशियों से भरा हो। कोई भी परेशानी हमें छू भी न पाए पर कभी-कभी कुछ वास्तु दोष ऐसे होते हैं जो हमें खासा परेशान कर देते हैं। 

इसी प्रकार कभी-कभी घर में रखी हुई चीजें भी वहां की ऊर्जा को सकरात्मक या नकारात्मक बनाती है। कूड़ादान एक ऐसी चीज है जिसका उपयोग आप व्यर्थ की वस्तुओं को फेंकने में करते हैं इसलिए वास्तुशास्त्र के हिसाब से इसे घर में रखने के लिए सही दिशा का चुनाव करना बहुत जरूरी है।

यदि आप गलत दिशा चुन कर किसी सामान को वहां रख देते हैं तो उसके नकारात्मक प्रभाव को आपको झेलना ही पड़ेगा। घर में मौजूद छोटे सा छोटा सामान भी आपको सही दिशा में रखना चाहिए। यहां तक कि घर में रखे डस्टबिन को भी सही दिशा में रखना जरूरी है। वास्तु के अनुसार यदि आप घर में डस्टबिन सही दिशा में नहीं रखते हैं तो आपको कई नुकसान उठाने पड़ सकते हैं। 

यहां भूलकर भी न रखें डस्टबिन ...

-वास्तु के हिसाब से घर में डस्टबिन को कभी भी उत्तर दिशा में नहीं रखना चाहिए। यह घर में नकारात्मकता फैलाता है। यदि आप उत्तर दिशा में कूड़ादान रखते हैं तो उसे तुरंत ही वहां से हटा लें क्योंकि यह आपके करियर में रुकावट ला सकता है। इससे आपको धन हानि भी हो सकती है। ऐसा होने आपके हाथों से अच्छे करियर के अवसर भी निकल सकते हैं।

-अगर आप बहुत दिनों से नौकरी की तलाश में हैं और आपको बहुत प्रयास करने के बाद भी नौकरी नहीं मिल रही है तो आपको सबसे पहले देखना चाहिए कि आपने घर में रखे डस्टबिन को किस दिशा में रखा है। वास्तु के हिसाब से उत्तर दिशा में डस्टबिन रखने से आपको दूसरा बड़ा नुकसान नौकरी का ही होता है। आपके हाथों में अवसर आता है मगर, वह आपको प्राप्त नहीं हो पाता। इससे आपको मानसिक तनाव भी रहता है।

-अगर आपका पैसा किसी प्रॉपर्टी या फिर किसी जगह या व्यक्ति के पास फंसा हुआ है और बहुत कोशिश करने के बाद भी नहीं निकल रहा है तो अपने घर में रखे डस्टबिन की दिशा देखें। अगर आपने उत्तर दिशा में डस्टबिन रखा है तो यही कारण है जो आपका पैसा फंसा हुआ है। आपको डस्टबिन की दिशा बदलनी होगी। वैसे डस्टबिन सही दिशा में न रखा हो तो इससे दूसरों से आपके संबंध भी बिगड़ जाते हैं।

-उत्तर-पूर्व में रखे डस्टबिन की वजह से यहां रहने वाले लोगों के दिमाग में नए और क्रिएटिव विचार मुश्किल से ही आते हैं। सूर्य से संबंध रखने वाली पूर्व दिशा मान-सम्मान और सामाजिक सम्पर्क से संबंध रखने वाली दिशा मानी गई है। इस दिशा में डस्टबिन रखने से आर्थिक समस्याएं झेलनी पड़ती हैं वहीं परिवार के सदस्यों के बाहरी लोगों से रिश्ते खराब होते हैं।

-दक्षिण-पूर्व दिशा का संबंध शुक्र ग्रह से है। भूलकर भी इस तरफ डस्टबिन नहीं रखना चाहिए। इस दिशा में डस्टबिन रखने से आपके व्यापार में धनहानि हो सकती है एवं अच्छे कार्यों में बाधा आएगी। यश और आराम के दिशा क्षेत्र दक्षिण में डस्टबिन होने से वहां रहने वाले लोगों को आराम का अनुभव बिल्कुल नहीं होता है। परिवार के लोग कितनी भी मेहनत से कोई भी कार्य क्यों न कर लें उनकी मेहनत बेकार चली जाती है,उन्हें किसी से भी प्रशंसा नहीं मिलती।

-दक्षिण-पश्चिम या नैऋत्य दिशा को आपसी संबंधों और रिश्तों की दिशा मानी गई है। इस दिशा में डस्टबिन रखने से आपसी संबंधों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। परिवार में एक राय नहीं होने से हमेशा तना-तनी का माहौल रहता है,बच्चे आपस में एवं बड़ों से झगड़ते रहेंगे।

-पश्चिम दिशा लाभ और मेहनत का फल मिलने की दिशा मानी गई है। इस दिशा में रखा हुआ डस्टबिन यहां के लोगों की मेहनत का उचित फल मिलने में बाधा बनने का कारण बनेगा। इसी प्रकार मदद और सहयोग के दिशा क्षेत्र उत्तर-पश्चिम में डस्टबिन नहीं रखें। यहां डस्टबिन रखने से आपको बाहर के लोगों से कोई मदद नहीं मिलेगी और जरूरत पड़ने पर आप भी किसी की सहायता नहीं करेंगे। 

घर में आखिर कहां रखें डस्टबिन

वास्तु में दक्षिण-दक्षिण-पश्चिम को अपव्यय और विसर्जन का जोन माना गया है इसलिए यह दिशा डस्टबिन रखने के लिए उपयुक्त मानी गई है। यहां डस्टबिन रखने से आपके दिमाग में व्यर्थ की बातें नहीं आतीं, आप अपने काम पर ठीक से फोकस करते हैं। डिप्रेशन के जोन पश्चिम-उत्तर-पश्चिम में भी आप डस्टबिन रख सकते हैं। यहां रखा डस्टबिन आपको जीवन के प्रति सकारात्मक बनाता है।

Advertisement
Back to Top