हवस मिटाने के लिए महिलाओं को कमरे पर बुलाता था RTC मैनेजर, व्हाट्सऐप पर करता था गंदी चैट

 Tekkali RTC Depot Manager Harassing Women Employees in Srikakulam District - Sakshi Samachar

महिला कर्मचारियों के  साथ अभद्र चैटिंग

छुट्टी के लिए इच्छा पूरी करने की डिमांड

लॉंग ड्राइव और टूरिस्ट प्लेस ले जाने की लालच

इच्छा पूरी नहीं करने पर प्रमोशन लिस्ट से नाम हटाने की धमकी

श्रीकाकुलम : आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में आरटीसी डिपो मैनेजर द्वारा महिला कर्मचारियों के साथ बदसलूकी और यौन उत्पीड़न का मामला सामने आया है। महिला कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए कड़े नियम बनाने के बावजूद यौन उत्पीड़न जैसे मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं।  मुख्य रूप से निचले क्रम की महिला कर्मचारियों का यौन उत्पीड़न के मामले बदस्तूर जारी हैं। कानून से बच निकलने का घमंड और निचले कर्मचारियों के प्रति हल्की सोच के चलते महिला कर्मचारियों के साथ इस तरह का बर्ताव हो रहा है। 

श्रीकाकुलम जिले के टेक्कली आरटीसी डिपो में भी एक अधिकारी की बदसलूकी सामने आई है। मैनेजर ने महिला कर्मचारियों के यौन उत्पीड़न के अलावा अपनी बात नहीं मानने पर प्रमोशन लिस्ट से नाम हटाने की धमकी भी दे डाली। इससे लाचार महिला कर्मचारियों ने साक्षी टीवी को अपनी परेशानियों के बारे में बताया।

पीड़ित महिलाओं ने साक्षी को बताया कि टेक्कली आरटीसी डिपो के मैनेजर ईश्वर राव वहां कार्यरत महिला कर्मचारियों का यौन उत्पीड़न कर रहा था। उसने महिला कर्मचारियों से फोन पर असभ्य भाषा में चैटिंग करने के अलावा ड्यूटी खत्म होने के बाद अपने रूम आकर जाने का आदेश तक जारी कर दिया। छुट्टी मांगने पर अपनी इच्छा पूरी करने और अपनी हर बात मानने के लिए महिला कर्मचारियों पर दबाव बनाया करता था। 

इसे भी पढ़ें : 

आंध्र प्रदेश : सैनिटाइजर मिला शराब पीने से 9 लोगों की मौत

यही नहीं, वह महिलाओं को उसकी बात मानने पर लॉग ड्राइव और टूरिस्ट प्लेसेज पर ले जाने का लालच देने की कोशिश की और  उसने अपनी इच्छा पूरी नहीं करने की स्थिति में प्रोमेशन लिस्ट से नाम हटाने की धमकी तक दे दी। यह मामला डायरेक्टर स्तर के अधिकारियों तक पहुंचने के बावजूद उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं किए जाने से ईश्वर राव का हौसला और बढ़ गया। डिपो मैनेजर की दिनों-दिन बढ़ती यातनाओं से तंग महिला कर्मचारी ईश्वर राव की करतूतों का भंडाफोड़ करते हुए वहशी मैनेज के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रही हैं।

Advertisement
Back to Top