पूर्णिया में देह व्यापार का पर्दाफाश, सात नाबालिग समेत 10 युवती को किया रेस्क्यू, 2 दलाल भी गिरफ्तार

Police Raids In Red Light Area Of Purnia And 10 Women Rescued - Sakshi Samachar

जबरन कराया जाता था देह व्यापार

पूरे बिहार में चल रहा है अभियान

सरगना भाग निकले

पूर्णिया : बिहार के पूर्णिया  जिले के आईजी कमजोर वर्ग के निर्देशन पर शनिवार को सीसीएचटी की ओर से यहां के गुलाबबाग और खुशकीबाग रेड लाइट इलाके में छापेमारी की गई। बताया जाता है कि इस छापेमारी में 10 युवतियों को रेस्क्यू कराया गया है, जिसमें से 7 लड़कियां नाबालिग है। वहीं पुलिस ने मौके से 2 दलाल को भी हिरासत में लिया है। सबको हिरासत में लेकर पहले थाना लाया गया. वहीं रेस्क्यू की गई युवतियों को मेडिकल की प्रक्रिया में भेजा जाएगा।  

 सरगना भाग निकले

 इस छापेमारी में पटना से आई सीआईडी की टीम और स्थानीय पुलिस का सहयोग लिया गया। यह  छापेमारी करीब 3 घण्टे तक चली। जिसमें पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। सीसीएचटी के कन्वीनर वाई के गौतम ने बताया कि हम पूरी तैयारी के साथ इस छापेमारी के लिए पहुंचे थे. लगभग 5 थानों की पुलिस बल और सीआईडी की टीम भी साथ थी। लड़कियों को रिकवर तो करा लिया गया है, मगर जो ये धंधा चला रहे हैं वो लोग हाथ नहीं आए। वो सब फरार हो चुके थे। 

जबरन कराया जाता था देह व्यापार

सीसीएचटी के कन्वीनर का दावा है कि इन लड़कियों से जबरन देह व्यापार का धंधा करवाया जाता था, जिसकी सूचना के आधार पर हमने छापामारी की और सफलता पूर्वक 10 युवतियों को सुरक्षित रिकवर कर लिया है।  उन्होंने कहा कि अवैध रूप से देह व्यापार का गोरखधंधा जो चल रहा है, उसे समाज से खत्म करने के लिए हमारी सामाजिक संस्था काम कर रही है। इसके लिए सरकारी आदेश और उनके सहयोग से हम काम कर रहे हैं। साथ ही इनके पुनर्वास के लिए भी सरकार ध्यान देगी। 

पूरे बिहार में चल रहा है अभियान

संस्था के कन्वीनर वाई के गौतम ने बताया कि पूरे बिहार में आई जी कमजोर वर्ग के निर्देशन पर ये अभियान चलाया जा रहा है। आज ही पूर्णिया के अलावा फारबिसगंज में भी छापेमारी में 8 लड़कियां रेस्क्यू की गई हैं। 

Advertisement
Back to Top