महिला से की छेड़छाड़ तो पहनाई जूतों की माला और कराई परेड, लेकिन...

Molestation of women, wearing a garland of shoes and a parade, but ... - Sakshi Samachar

दो क्रॉस एफआईआर दर्ज 

हमले का कारण भूमि विवाद बताया 

पिता के साथ मारपीट पर प्राथमिकी दर्ज

दूसरी ओर कारण महिला के साथ छेड़छाड़ बताया गया

कासगंज (यूपी) : महिला से छेड़छाड़ करने के बाद 65 वर्षीय एक व्यक्ति को सामाजिक रूप से शर्मसार करने का मामला सामने आया है। बुजुर्ग व्यक्ति महिला का पड़ोसी है। मामला पुलिस के पास दर्ज हो चुका है, जिसमें दोनों पक्षों ने इसका अलग-अलग कारण बताया है।

दो क्रॉस एफआईआर दर्ज 
हुआ यूं कि गुरुवार को कासगंज जिले के अलीदनपुर गांव में एक व्यक्ति को गले में जूतों की माला पहनाकर उसका चेहरा काला कर पूरे गांव में घुमाया गया। इस मामले में सहावर पुलिस स्टेशन में पीड़ित और आरोपियों के परिवारों द्वारा दो क्रॉस एफआईआर दर्ज की गई। 

तीन लोगों की गिरफ्तारी
इस सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पहली एफआईआर आरोपी के बेटे ने तीन भाइयों सहित पांच लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147 (दंगों), 452 (मारपीट की तैयारी के बाद घर-द्रोह), 342 (गलत काम के लिए सजा), 323, 500 (मानहानि की सजा) और 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा) के तहत दर्ज कराई थी।

पिता के साथ मारपीट पर प्राथमिकी दर्ज
प्राथमिकी में, 65 वर्षीय के बेटे ने आरोप लगाया कि पांच लोगों ने डंडों और लाठियों से लैस होकर सुबह उसके घर में घुसकर उसके पिता के साथ मारपीट की। उन्होंने उसका चेहरा काला कर दिया और उसे जूते की माला पहनाकर गांव में चलने को मजबूर कर दिया।

यह भी पढें :  एम्स के डॉक्टरों की पहल, कोरोना संक्रमित शव में कितने घंटे जीवित रहता है वायरस, करेंगे रिसर्च

हमले का कारण भूमि विवाद बताया 
उन्होंने कहा कि हमले का कारण भूमि विवाद है। प्राथमिकी के बाद, पांच आरोपियों में से तीन को गिरफ्तार किया गया था।
हालांकि, बाद में शाम को गिरफ्तार आरोपियों में से एक ने बूढ़े व्यक्ति के खिलाफ एक काउंटर एफआईआर दर्ज कराई, जिसमें दावा किया गया कि 18 मई की रात को बुजुर्ग व्यक्ति उसके घर आया था और उसकी पत्नी के साथ छेड़छाड़ की थी। उनकी लिखित शिकायत के आधार पर, पुरुष के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 और 506 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

दूसरी ओर कारण महिला के साथ छेड़छाड़ बताया गया
एफआईआर के बाद, पीड़ित को पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशन लाया गया। साहवर एसएचओ गणेश चौहान ने कहा, "एक पक्ष ने दावा किया कि उनकी महिला रिश्तेदार के साथ छेड़छाड़ की गई थी इसलिए उन्होंने बुजुर्ग व्यक्ति को सबक सिखाया। दूसरी पार्टी ने आरोप लगाया कि एक पुरानी प्रतिद्वंद्विता के कारण, उनके परिवार के सदस्य का अपमान किया गया और ग्रामीणों के सामने उन्हें बेइज्जत किया गया। गौरतलब है कि इस मामले में अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है और पीड़िता का मेडिकल परीक्षण कराया गया है। आगे की जांच जारी है।"
-आईएएनएस

यह भी पढें : बिहार से 60 दिनों बाद घर लौटी 'बारात', लोगों ने कहा- नहीं भूलेंगे यह शादी​

Advertisement
Back to Top