मासूम से रेप के बाद कैंची से गोदा शरीर, घिसटते हुए पहुंची पड़ोसी के दरवाजे और फिर इशारों में बयां किया दर्द

A Minor Girl Brutally Assaulted And Stabbed By Scissors Fights For Life In Aiims - Sakshi Samachar

घिसटते हुए पहुंची पड़ोसी के घर फिर इशारों में बयां किया दर्द

 मासूम के शरीर में गंभीर घाव के निशान

महिला आयोग ने लिया मामले का संज्ञान

नई दिल्ली : दिल्ली  के पश्चिम विहार वेस्ट के पीरागढ़ी इलाके में एक 13 साल की मासूम के साथ हैवानियत का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। घर में बच्ची अकेली थी। इसी दौरान उसके साथ दरिंदगी की गई। जब बच्ची ने इसका विरोध किया तो उसके पूरे शरीर को कैंची से गोद दिया। सूत्रों का कहना है कि बच्ची के साथ निर्भया जैसी वारदात को अंजाम दिया गया। आरोपी बच्ची को खून से लथपथ देख मरा हुआ समझकर फरार हो गया।

इशारों से बयां किया दर्द
बच्ची की हालत इतनी खराब थी कि वह न तो चल पा रही थी और ना ही कुछ बोल पा रही थी। बेसुध हालत में किसी तरह वह घिसटते हुए दरवाजे तक पहुंची और पड़ोसी के दरवाजे को खटखटाकर इशारे से खुद की हालत बयां करते हुए फिर से बेहोश हो गई। पड़ोसियों का कहना था कि उसके निजी अंगों से खून बह रहा था। बच्ची की हालत इतनी खराब थी कि वह भी डरे हुए थे। पुलिस ने बच्ची को फौरन संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया।

शरीर में गंभीर घाव के निशान
जानकारी के मुताबिक उसके सिर और हिप्स में किसी धारदार हथियार से कई वार किए गए थे। बच्ची के इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम सरगर्मी से जुटी और सिर व कटे हुए हिस्सों में टांके लगाए, हाथों हाथ एम्स रेफर कर दिया। लड़की ने जो बयान दिया है, उसके आधार पर वारदात में दो लड़के शामिल थे। पुलिस को अंदेशा है कि दोनों संदिग्ध आसपास के ही हैं। पुलिस का कहना है कि 13 साल की बच्ची परिवार के साथ पीरागढ़ी में किराए पर रहती है। परिवार मूल रूप से बिहार का रहनेवाला है। जिस कमरे में परिवार रहता है, वह बिल्डिंग तीन मंजिल की है, जिसमें छोटे-छोटे करीब 25 कमरे बने हुए हैं।

घर में अकेली थी बच्ची
बच्ची के परिवार में उसके माता-पिता और एक बड़ी बहन है। माता-पिता फैक्ट्री में लेबर हैं। बड़ी बहन भी काम करती है। लगभग रोजाना वह बच्ची अपने कमरे में अकेली रहती है। वाकया मंगलवार शाम का है। पुलिस को तकरीब साढ़े पांच बजे कॉल मिली थी। इससे पहले पड़ोसियों ने पहले उसके माता-पिता को हादसे की जानकारी दी, क्योंकि वह घिसटते हुए सबसे पहले पड़ोसी के दरवाजे पर पहुंची थी। आसपास के सीसीटीवी कैमरों को भी कब्जे में लिया है। आरोपी जल्दी गिरफ्त में होंगे।

महिला आयोग ने लिया मामले का संज्ञान
महिला आयोग ने मांगी रिपोर्ट दिल्ली महिला आयोग ने इस गंभीर वारदात को खुद से संज्ञान लिया है और पुलिस को नोटिस जारी किया है। महिला आयोग ने 8 अगस्त तक घटना की एफआईआर की एक प्रति देने को कहा है, साथ ही इस मामले में अभी तक क्या कार्रवाई की गई है, इसकी भी रिपोर्ट मांगी गई है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने बताया कि लड़की के साथ बर्बरता से रेप किया गया और आरोपियों ने उसकी हत्या करने की कोशिश की। फिलहाल लड़की एम्स अस्पताल में भर्ती है, जहां वह जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है। 

Advertisement
Back to Top