परिवार के 4 सदस्यों को जिंदा फूंकने के बाद खुद फंदे पर झूला शख्स, भाभी और भतीजी समेत 4 की मौत

Man Commits Suicide after Killing 4 Members Of A Family in Anuppur MP - Sakshi Samachar

कमरे में डीजल डालकर लगाई आग

बुरी तरह झुलसा आरोपी का भतीजा

दो भाइयों ने लिया था कर्ज

अनूपपुर : मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के अनूपपुर जिले (Anuppur District) में एक सिरफिरे युवक ने अपने भाई के परिवार के चार सदस्यों को आग के हवाले कर दिया और खुद फांसी के फंदे पर झूल गया। जलाए गए चार में से तीन और फांसी पर झूले आरोपी युवक की मौत हो गई। इस वारदात की वजह पारिवारिक विवाद बताया जा रहा है ।

कमरे में डीजल डालकर लगाई आग
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जैतहरी थाने के धनगवां में एक युवक दीपक विश्वकर्मा ने बीती रात अपने भाई ओमकार विश्वकर्मा के परिवार के सदस्यों के कमरे में डीजल डालकर आग लगा दी। उसने यह आग उनके कमरे में नीचे से डीजल डालकर लगाई थी।

बुरी तरह झुलसा आरोपी का भतीजा
आग ने कुछ ही देर में विकराल रुप ले लिया और लोग चाहकर भी बाहर नहीं निकल पाए। इस आग की चपेट में आकर ओमकार, उनकी पत्नी कस्तूरी, पुत्री निधि की जलकर मौत हो गई, वहीं आरोपी का भतीजा आशीष बुरी तरह झुलस गया। वहीं दीपक खुद फांसी के फंदे पर झूल गया।

दो भाइयों ने दिलिया था कर्ज
बताया गया है कि दीपक कुल तीन भाई हैं, जिनमें से दो भाईयों ने उसे कारोबार के लिए दस लाख का कर्ज दिलाया था, मगर उसने कर्ज की किश्त नहीं दी। इसी बात को लेकर विवाद भी होता था। उसी के चलते दीपक ने यह कदम उठाया।

दीवार पर लिखी मिली हत्या की वजह
उसने दीवार पर भी अपनी बात लिखी है। उसमें आरोपी दीपक ने लिखा है कि चेतराम उसे घर से निकालना चाहता था। साथ ही उस पर मारपीट और जुआ खेलने का आरोप भी लगा रहा था। पुलिस का कहना है कि दीपक के अपने भाई ओमकार के साथ रिश्ते अच्छे नहीं थे। दोनों में पैसों को लेकर विवाद हुआ था। शुरुआती जांच में लग रहा है कि दीपक ने ही इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। लेकिन, दूसरे एंगल को लेकर भी जांच की जा रही है। इससे पता चलता है कि भाईयों के बीच कर्ज को लेकर विवाद था।

घर में मिली केवल हड्डियां और राख

गुरुवार सुबह जब पुलिस गांव में पहुंची, तो घर पूरी तरह जल चुका था। आग में पूरी तरह जल चुके चेतराम, उसकी पत्नी और बेटी की हड्‌डियां और राख ही बची थी। अनूपपुर के पुलिस अधीक्षक एम एल सोलंकी ने संवाददाताओं को बताया है कि, "घटनास्थल को देखकर लगता है कि पारिवारिक विवाद के चलते इस वारदात को अंजाम दिया गया। प्रारंभिक जांच में यह लगता है कि वारदात को दीपक ने अंजाम दिया है। हड्डियां इकट्ठी कर जांच के लिए भिजवाई हैं।"

Advertisement
Back to Top