आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए प्रेमी- प्रेमिका, कपड़े उतरवाकर गांव में घुमाया

 love Birds Caught Objectionable Condition Villagers Beaten Stripped Of Clothes In Sahibganj Jharkhand - Sakshi Samachar

आपत्तिजनक अवस्था में पकड़ा गया प्रेमी युगल

गांव वालों ने जमकर पीटा, नंगा कर गांव में घुमाया

पुलिस मुश्किल से इस प्रेमी जोड़े को बचा सकी

रांची :   झारखंड के साहिबगंज जिले से इंसानियत को शर्मसार कर दने वाला मामला सामने आया है। यहां एक कपल को पूरे कपड़े उतरवार कर नंग्न कर दिया। इसके बाद उन्हें पूरे गांव में जूते की माला पहनाकर घुमाया गया है। हालांकि समय रहते ही पुलिस कपल को बचाने पहुंची लेकिन उसे काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। हालांकि बाद में पुलिस ने इस मामले में कई लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है।  घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।इस वीडियो को गांव के किसी शख्स ने ही बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर किया है।पुलिस वायरल वीडियो का जांच कर रही है, पुलिस का कहना है कि कानून को हाथ में लेने वाले किसी भी व्यक्ति को नहीं बख्शा जाएगा। हालांकि अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई।

क्या है पूरा मामला
मिली जानकारी के मुताबिक गांव वालों के इस शर्मनाक करतूत का शिकार  एक लड़की अपने किसी रिश्तेदार के घर रहती थी और उसकी शादी गांव के ही एक युवक के साथ हुई थी। लेकिन लड़की का किसी दूसरे लड़के के साथ अफेयर था। कपल को आपत्तिजनक हालत में एमजीआर रेलवे लाइन के पास गांव के लोगों ने पकड़कर और बंधक बना लिया।

गांव वालों ने कपल के साथ की जमकर मारपीट 
दोनों को गांव लाकर दोनों की जमकर पिटाई की गई। इसके बाद दोनों के पूरे कपड़े उतारे गए और जूते की माला पहना दी गई। इसके बाद उन्हें पूरे गांव में घुमाया। इसके बाद युवक के परिवारवालों को बुलाया गया और गांव बैठक हुई। गांव की पंचायत में पकड़े गए युवक के पर 5 लाख का जुर्माना लगाया गया। 

पुलिस ने प्रेमी युगल को बचाया 
समय रहते ही पुलिस को इस बात की खबर लगी और पुलिस मौके पर पहुंची। एसडीपीओ प्रमोद कुमार मिश्रा के नेतृत्व में तीन थानों की फोर्स मौके पर पहुंची फिर युवक और युवती को भीड़ के चंगुल से छुडवाया गया। पुलिस जब दोनों को थाने ले जाने लगी तो गांव वालों ने इसका जमकर विरोध किया। भीड़ को हिंसक होता देख उन्हें काबू में लाने के  लिए पुलिस लाइन से और भी फोर्स मंगवाई और कपल को अपने साथ थाने ले आई। 

Advertisement
Back to Top