दादी को सामने बिठाकर बदमाशों ने तीन पोतियों के साथ किया रेप, सदमे से हुई मौत

Grandma Dies of Shock After Being Forced To WatchThree Nieces Raped  - Sakshi Samachar

जोहानिसबर्ग : मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना अक्सर सामने आती रहती है, लेकिन दक्षिण अफ्रीका के क्वाज़ुलु से एक ऐसा मामले सामने आया है जो पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है। यहां के नटाल प्रांत में एक 71 वर्षीय महिला के घर में घुसकर कुछ लोगों ने बंदूक की नोंक पर उसकी तीन पोतियों के साथ रेप किया। खौफनाक बात ये है कि रेप के दौरान इन लोगों ने महिला को अपनी पोतियों का रेप होते देखने के लिए मजबूर किया। महिला को इस घटना से इतना सदमा पहुंचा कि उनकी मौत हो गयी। 

दरअसल क्वाज़ुलु-नटाल प्रांत के इम्पेंडल में एक घर में 71 साल की वृद्ध महिला अपनी तीन पोतियों के साथ रहती थी। एक दिन कुछ बदमाश उस वृद्ध के घर में घुस आए और उन्होंने बंदूक के बल पर सभी को बंधक बना लिया। बदमाशों ने उस वृद्ध महिला की तीनों पोतियां जिनकी उम्र क्रमश: 19, 22 और 25 साल थी उन्हें एक बेडरूम में बंद कर दिया।  इसके बाद वह 71 वर्षीय महिला को जबरदस्ती घसीट कर इस कमरे में लाया और उसे एक कुर्सी से बांध दिया। इसके बाद इस शख्स ने बन्दूक की नोक पर बारी-बारी से तीनों लड़कियों का रेप किया। पुलिस के मुताबिक महिला सदमे से बेहोश हो गयी थी और बाद में उसे मृत घोषित कर दया गया।  

वहीं, ट्रिपल बलात्कार के इस मामले की जांच कर रही दक्षिण अफ्रीकी पुलिस का मानना है कि इस दौरान पीड़ित परिवार की किसी ने मदद नहीं की जिसका सदमा महिला बर्दाश्त नहीं कर पायी और असहाय महसूस करने की वजह से उन्हें दिल का दौरा पड़ गया। पुलिस ने बताया कि ये कोई निजी दुश्मनी का मामला लगता है क्योंकि घर से कोई सामान नहीं चुराया गया है। लड़कियों से रेप और मारपीट की गयी है। 

पुलिस के प्रवक्ता नाकोबिल ग्वाला ने बताया कि आरोपी की पहचान नहीं हो पाई है। लड़कियों ने बताया कि हमलावर ने कपड़े से चेहरा ढक रखा था। उन्होंने बताया कि उनकी दादी घटना के दौरान ही सदमे से बेहोश हो गयीं थीं। 

वहीं, पीड़ित परिवार के संबंधी ने बताया कि हमने दादी को घर में मौजूद पाया लेकिन पहले ही उनका निधन हो चुका था। हमें लगता है कि वो ये अमानवीय कृत्य देखकर बुरी तरह डर गई थीं जिससे उन्हें दिल का दौरा पड़ा। पीड़ित लड़कियों के चाचा ने कहा कि, 'मुझे लगता है कि मेरी मां की मौत दिल के दौरे से हुई है।

उन्होंने कहा कि अपराधियों ने मेरी मां पर हमला नहीं किया, लेकिन उन्होंने मेरी भतीजियों को कमरे से बाहर निकाला और मां के सामने एक-एक करके उनके साथ बलात्कार किया। ये सदमा वह बर्दाश्त नहीं कर सकीं और उनकी मौत हो गई। साउथ अफ्रीका में सोशल मीडिया पर इस मामले को लेकर काफी चर्चा की जा रही है। प्रांतीय सरकार के प्रवक्ता नोंलान्हा खोजा ने लोगों को भरोसा दिलाया है कि दोषी को जल्द से जल्द सजा दी जाएगी। 

Advertisement
Back to Top