FRAUD : ऐसे चल रहा था फर्जी काल सेंटर , पहले चुराते थे डाटा और फिर..

 fraud gang busted in bareilly  - Sakshi Samachar

फर्जी काल सेंटर का भंडाफोड़

नौकरी देने के नाम पर युवाओं से ठगी !

बरेली : मौजूदा दौर में एक तरफ जब कंपनियों में छटनी हो रही है, तो वहीं बेरोजगार युवा नौकरियां तलाश रहे हैं। ऐसे ही लोगों को ठगने वाले एक गैंग का भंडाफोड़ पुलिस ने किया है। 

12 युवतियां गिरफ्तार

लोगों को रोजगार देने के नाम पर यह गैंग पैसे ऐठने का काम कर रहा था। पुलिस ने फर्जी कॉल सेंटर के संचालक समेत 12 युवतियों को पकड़ा है। इनके पास से दो दर्जन मोबाइल, लैपटॉप और अन्य  कई दस्तावेज बरामद हुए हैं । पुलिस ने आरोपी कॉल सेंटर के संचालक  प्रशांत को जेल भेज दिया है। 

डाटा चुराकर नामी कंपनियों के नाम से लेते थे इंटरव्यू

पुलिस की पूछताछ में जानकारी मिली है कि यह गैंग तमिलनाडु, कर्नाटक, राजस्थान, आंध्र प्रदेश और अन्य राज्यों के युवाओं डाटा 'नौकरी डॉट काम' से चोरी कर लेता था। उसके बाद नौकरी की तलाश करने वाले बेरोजगार युवकों का ई-मेल मिलने के बाद उन्हें फोन करके पूरी जानकारी ली जाती था। उसके बाद उन्हें किसी बड़ी कंपनी में उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर सेलेक्ट करने का नाटक किया जाता था।  

पुलिस को इस बारे में कई शिकायतें मिली थी, जिसके बाद पुलिस ने छापा मार कर गैंग का भंडाफोड़ किया। गैंग को प्रशांत भार्गव नाम का आदमी किराए की बिल्डिंग में चला रहा था। पुलिस के मुताबिक नौकरी दिलाने के नाम पर युवाओं से 1800 रुपये से लेकर 2000 रुपये तक लिए जाते थे। 

Advertisement
Back to Top