यूपी में 50 बच्चों के यौन शोषण का आरोपी इंजीनियर गिरफ्तार, विदेशियों को बेचता था VIDEO

cbi arrested junior engineer of up irrigation department for child sexual abuse  - Sakshi Samachar

नई दिल्ली: केंद्रीय जांच ब्यूरो ने छोटे बच्चों का यौन शोषण करने के आरोप में यूपी सरकार के सिंचाई विभाग में तैनात जूनियर इंजीनियर रामभवन को अरेस्ट किया है। आरोपी की उम्र करीब चालीस साल बताई जाती है। सीबीआई को छापेमारी के दौरान कई अहम साक्ष्य मिले हैं। जिससे रामभवन के घिनौने कारनामे उजागर होते हैं। उसके घर से ₹8 लाख नकद, यौन संबंधी खिलौने, लैपटॉप और बच्चों के यौन शोषण से संबंधित वीडियो बरामद हुए हैं। आरोपी बच्चों को खिलौनों का लालच देकर जाल में फांसता था। उसने 5 साल से 16 साल तक के करीब पचास बच्चों को अपने जाल में फंसाया था। 

सीबीआई प्रवक्ता आरके गौड़ ने बेहद सनसनीखेज वारदात के बारे में पूरी जानकारी दी। अधिकारी के मुताबिक आरोपी के खिलाफ उत्तर प्रदेश के जिला चित्रकूट समेत बांदा और आसपास के जिलों में बच्चों के यौन शोषण के कई आरोप सामने आए थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए सीबीआई ने जाल बिछाया और सुबूतों के साथ रामभवन को धर दबोचा गया है। सीबीआई आरोपी के साथ कुछ और लोगों के अपराध में शामिल होने की आशंका जाहिर कर रही है। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं आरोपी बच्चों का यौन शोषण करते हुए वीडियो बनाता था और उसे पोर्न साइट पर अपलोड भी किया करता था। इसके लिए डार्क वेब का इस्तेमाल करता था ताकि पकड़ में नहीं आ सके। 

सीबीआई ने आरोपी के घर से मोबाइल फोन, लैपटॉप, वेब कैमरा, पेन ड्राइव और मेमोरी कार्ड और खिलौनों समेत इलेक्ट्रॉनिक स्टोरेज डिवाइस बरामद किये हैं। जांच से जुड़े आला अधिकारी के मुताबिक आरोपी के ईमेल की जांच से पता चला है कि वह बाल यौन शोषण सामग्री शेयर करने के मकसद से कई विदेशियों के संपर्क में था। आरोपी ने इंटरनेट पर सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म और वेबसाइटों का इस्तेमाल करते हुए डार्क नेट के जरिए यौन शोषण से जुड़ी सामग्री प्रसारित की। गिरफ्तार आरोपी को आज ही सीबीआई की विशेष अदालत के सामने पेश किया गया है। बता दें कि बाल यौन शोषण को लेकर सरकार गंभीर है। इसको लेकर दिल्ली सीबीआई मुख्यालय में एक विशेष यूनिट कार्यरत है। इसी की पहल पर इस सनसनीखेज मामले का उद्भेदन हो सका। 
 

Advertisement
Back to Top