सालों से मुकेश अंबानी का 'चाणक्य' बना है ये शख्स, रचा ऐसा 'व्यूह' कि जियो में मची पैसे लगाने की होड़

Manoj Modi Behind All The Investment Jio has Acquired - Sakshi Samachar

चर्चाओं से दूर रहते हैं मनोज मोदी

अंबानी के क्लासमेट हैं मनोज मोदी

नई दिल्ली :  एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की जियो प्लेटफॉर्म्स में सबसे ज्यादा निवेश हुआ है। कोरोना काल के इस दौर में भी फेसबुक समेत दुनिया भर की आठ जानी मानी कंपनियों ने जियो प्लेटफॉर्म्स में इन्वेस्टमेंट कर उसके शेयर्स खरीदे हैं। जियो प्लेटफॉर्म्स ने कंपनी की हिस्सेदारी बेच कर 97,885.65 करोड़ रुपए  जुटाए हैं। इसके बाद जियो प्लेटफॉर्म्स सबसे बड़ी और ताकतवर कंपनी बन कर उभरी है। अभी भी इसमें कई कंपनियां निवेश करने के लिए तैयार हैं। बताया जाता है कि तमाम कंपनियों से निवेश की डील कराने के पीछे मनोज मोदी की अहम भूमिका रही है। मनोज मोदी को मुकेश अंबानी का राइट हैंड माना जाता है।

कौन हैं मनोज मोदी
 साल 2007 में रिलायंस से जुड़ने वाले  मनोज मोदी मूलत : गुजरात के रहने वाले हैं। रिलायंस के हरेक बड़े प्रोजेक्ट में इनका बड़ा रोल होता है। वे रिलायंस के टॉप मैनेजमेंट में शामिल हैं। रिलायंस के नए प्रोजेक्ट में मनोज मोदी की भूमिका ‘की’ के रूप में होती है। रिलायंस के हजीरा पेट्रो-केमिकल्स, जामनगर रिफाइनरी, रिलायंस रिटेल और रिलायंस जियो में मनोज मोदी की महत्वपूर्ण भूमिका रही। मनोज मोदी ने जामनगर रिफाइनरी में काम के दौरान व्यापारियों और कांट्रेक्टरों के बीच जबर्दस्त डीलिंग की थी, इसके बाद से ही वे मुकेश अंबानी के चहेते बन गए। मनोज मोदी अपनी एग्रेसिव लैंग्वेज के लिए भी जाने जाते हैं।

चर्चाओं से दूर रहते हैं मनोज मोदी
सालों से  इतने बड़ी कंपनी में अहम रोल निभाने के बावजूद मनोज अक्सर चर्चाओं से बहुत दूर रहते हैं। उन्हें पर्दे के पीछे से काम करना पसंद है।  कंपनी की बड़ी से बड़ी डील को चुटकियों में कराने  वाले मनोज के विजिटिंग कार्ड में कोई पदनाम नहीं है। इसके अलावा अपनी पर्सनल लाइफ को भी कुछ शेयर करते हुए नहीं देखा गया है।

अंबानी के क्लासमेट है मनोज मोदी
इंजीनियरिंग में मनोज मोदी, मुकेश अंबानी के क्लासमेट थे। मुकेश अंबानी ने जब इंजीनियरिंग कर रहे थे, तब मनोज मोदी के सम्पर्क में आए। दोनों एक-दूसरे के दोस्त बने। इसे बाद उन्होंने रिलायंस की जर्नी शुरू की। आज मनोज मोदी अंबानी परिवार के सबसे भरोसेमंद व्यक्ति हैं। कंपनी की ग्रोथ के लिए वे किसी भी चुनौती को स्वीकार करने से पीछे नहीं हटते।

ईशा और आकाश को ट्रेंड कर चुके हैं मनोज
बिजनेस में अब पूरे अंबानी परिवार ने एंट्री कर ली है। नई मुम्बई के कॉर्पोरेट पार्क के 7वें फ्लोर पर स्थित आफिस में अंबानी के बेटे आकाश और बेटी ईशा भी बैठते हैं। मुकेश अंबानी ने दोनों को कंपनी के टॉप 70 अधिकारियों में शामिल किया है। आकाश-ईशा रिलायंस इंडस्ट्रीज की 4G टेलिकॉम कंपनी में डायरेक्टर के रूप में काम कर रहे हैं। बिजनेस के लिए इन दोनों को मनोज मोदी ने ही ट्रेंड किया है।

फेसबुक से पार्टनरशिप : मुकेश अंबानी पहले पायदान पर, फिर बने एशिया के सबसे अमीर आदमी

Advertisement
Back to Top