इस धनतेरस खरीदना हो सोना तो मददगार बनेगी सरकार की SGB स्कीम

Government SGB scheme to buy Gold on Dhanteras 2020 - Sakshi Samachar

हैदराबाद : धनतेरस और दिवाली के समय सोने की खरीद को काफी शुभ माना जाता है। इस साल कोरोना के कारण सोने के दामों में भारी उछाल आया। ग्लोबल स्केल के मुताबिक भारत में इस साल सोने की कीमतों में 31 फीसदी बढ़ी है। ऐसे में लोगों के लिए सोना खरीदना मुश्किल हो गया है, लेकिन त्योहार को देखते हुए सरकार सस्ते में सोना बेच रही है। 

त्योहारों से पहले सरकार सस्ते में बेच रही है। अगस्त में सोना भारत में 56,200 के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था, जबकि चांदी 80,000 रुपये प्रति किलोग्राम के करीब थी। विश्लेषकों के उम्मीद जताई कि भारत में सोने की मांग त्योहारी सीजन में बढ़ेगी।

खरीदें डिजिटल गोल्ड 
धनतेरस से पहले डिजिटल गोल्‍ड खरीदने का मौका आ गया है। इसी वक्त सरकार ने नौ नवंबर से सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की आठवीं सीरीज सब्सक्रिप्शन के लिए खोल दी है। इस बॉन्ड में निवेश कर आप डिजिटल गोल्‍ड खरीद सकते हैं। इस गोल्ड बॉन्ड के लिए सोने की कीमत 5,177 रुपये प्रति ग्राम तय की गई है। 

इससे पहले गोल्ड बॉन्ड की 7वीं सीरीज में सोने की कीमत 5,051 प्रति ग्राम पर रही थी। वहीं अगर गोल्ड बॉन्ड की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जाती है तो सरकार ऐसे निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट मिलेगी। रिजर्व बैंक (RBI) के मुताबिक सरकारी स्वर्ण बॉन्‍ड योजना 2020-21 की 8वीं सीरीज के लिए आवेदन 13 नवंबर 2020 तक कर सकते हैं. बता दें कि मंगलवार को सोने का वायदा भाव 836 रुपये बढ़कर 50,584 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया था। 

रिजर्व बैंक ने कहा है कि सरकार ने केंद्रीय बैंक के साथ बातचीत के बाद ये तय किया कि गोल्ड बॉन्ड के लिये ऑनलाइन आवेदन करने वाले निवेशकों को बॉन्ड की तय कीमत पर प्रति ग्राम 50 रुपये की छूट मिलेगी। ऐसे निवेशकों को आवेदन के साथ पेमेंट भी डिजिटल तरीके से ही करना होगा।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम(SGB) 

बता दें कि ये गोल्ड बॉन्ड 8 साल के लिए जारी किए जाते हैं और 5 साल के बाद इससे बाहर निकलने का विकल्प भी होता है। आवेदन कम से कम 1 ग्राम और उसके मल्‍टीपल में जारी किये जाते हैं। निवेशक न्यूनतम 1 ग्राम और ज्‍यादा से ज्‍यादा 4 किलो तक के लिये निवेश कर सकता है। हिन्दू ज्वाइंट फैमिली के लिए 4 किलो और ट्रस्ट जैसी संस्थाओं के लिए किसी 1 कारोबारी को साल में अधिकतम 20 किलो तक निवेश की इजाजत है।

भारत सरकार की ओर से भारतीय रिजर्व बैंक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड जारी करता है। देश में रह रहे भारतीय नागरिक, हिंदू अविभाजित परिवार, ट्रस्ट, यूनिवर्सिटी और चैरिटेबल इंस्टीट्युशन्स इस बॉन्ड को खरीद सकते हैं। इस स्कीम के तहत आप कम-से-कम एक ग्राम सोना खरीद सकते हैं। सरकार ने फिजिकल गोल्ड की मांग में कमी लाने के लक्ष्य के साथ नवंबर, 2015 में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरुआत की थी।

क्या है डिजिटल गोल्ड? 
इस स्कीम में गोल्ड बॉन्ड में निवेशक को फिजिकल रूप में सोना नहीं मिलता। ये फिजिकल गोल्ड की तुलना में अधिक सुरक्षित है। जहां तक शुद्धता की बात है तो इलेक्ट्रॉनिक रूप में होने के कारण इसकी शुद्धता पर भी कोई संदेह नहीं किया जा सकता। साथ ही ये गोल्ड बॉन्ड टैक्स फ्री भी होता है। सॉवरेज गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने के लिए आपके पास PAN होना जरूरी है।

Advertisement
Back to Top