मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए उठाए ऐतिहासिक कदम : विजयसाई रेड्डी

Vijayasai Reddy praised CM YS Jagan to control coronavirus In AP - Sakshi Samachar

कोरोना वायरस नियंत्रित करने में एपी सफल

केसीआर ने बड़ेपन का परिचय दिया

अमरावती : वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद वी विजयसाई रेड्डी ने कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी द्वारा कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिये उठाये गये कदमों के कारण आंध्र प्रदेश में बहुत कम पॉजिटिव मामले दर्ज हुए हैं। विजयसाई रेड्डी ने कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए एपी सरकार द्वारा उठाये जा रहे कदमों के बारे में एक ट्वीट किया है। 

सांसद ने कहा कि ग्राम वालंटियरों का विभाजन करके हर एक व्यक्ति को हेल्थ कार्ड तैयार करना बहुत ही मुश्किल भरा काम है। मगर उस कार्य में सफल हुए और उसका अच्छा फल देखने को मिल रहा है। 

उन्होंने आगे कहा, "तेलंगाना में बसे आंध्र प्रदेश के लोगों को 14 दिन तक वहीं पर रहना है। इस बारे में मुख्यमंत्री वाईएस जगन ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर से बातचीत भी की है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि प्रदेश को लोगों को किसी प्रकार की कमी आने नहीं दिया जाएगा। केसीआर ने ऐसा आश्वासन देकर अपने बड़प्पन का परिचय दिया है। यदि बाहर से लोग प्रदेश में प्रवेश करें तो कोरोना वायरस के अनियंत्रित होने का खतरा है।"

दूसरी ओर आंध्र प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री आल्ला नानी ने कहा कि कोरोना वायरस से डरने की कोई जरूरत नहीं है। केवल सोशल डिस्टेंस का पालन करें तो काफी है। मंत्री मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या में हो रही बढ़ोत्तरी को देखते हुए गुंटुर जिलाधीश कार्यालय में मंत्री मोपीदेवी वेंकटरमणा और मेकतोटी सुचरिता के साथ समीक्षा बैठक की। 

यह भी पढ़ें :

आंध्र प्रदेश एक और कोरोना का नया मामला, संख्या बढ़कर हुई 11

इसके बाद उन्होंने मीडिया से बताया कि कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए सरकार ने विशेष कार्यप्रणाली तैयार की है। प्रदेश में अब तक 332 लोगों के नमूने लिये गये हैं। इनमें से 289 लोगों के नमूने नेगेटिव और 10 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। 33 लोगों के रिपोर्ट आनी बाकी हैं।

मंत्रियों ने आगे बताया कि इस दौरान प्रदेश में चार जगहों पर लैबों में कोरोना वायरस की जांच की जा रही हैं। इसके अलावा गुंटूर, कडपा और विशाखापट्टण में नये लैब को स्थापित किये जाने के प्रस्ताव को केंद्र सरकार के पास भेजा गया है। गुंटूर में जिस व्यक्ति में कोविड-19 पॉजिटिव आया है, उसे विजयवाड़ा के कोरोना अस्पाताल में भेज दिया गया है। इस व्यक्ति के करीबियों को क्वारंटाइन सेंटर को भेज दिया गया है। 

उन्होंने चेतावनी दी कि यदि कोई रोजमर्रा की चीजों की कालाबाजारी करता है तो उनेके खिलाफ मामले दर्ज किये जाएंगे। दूध, अंडे और अन्य उत्पादों को बिना किसी रुकावट के आने-जाने दिया जा रहा है। इसके अलावा मिर्ची फसल को किसान कोल्ड स्टोरेज के लिए रवाना करने और वहां पर रखने के लिए वाहनों को अनुमति दी जाएगी।

Advertisement
Back to Top