वामपंथी दलों का आंध्र प्रदेश में कृषि बिलों के खिलाफ 29 सितंबर से तीन दिवसीय रिले भूख हड़ताल

 Three Day Relay Hunger Strike Against Agricultural Bills in Andhra Pradesh - Sakshi Samachar

 कृषि बिलों के खिलाफ तीन दिवसीय रिले भूख हड़ताल

जिलाधीश कार्यालयों की घेराबंदी के साथ अनशन भी होगा

अमरावती : दस वामपंथी दलों ने केंद्र सरकार द्वारा संसद में पारित कृषि बिलों के खिलाफ 29 मई से आंध्र प्रदेश में तीन दिवसीय रिले भूख हड़ताल करने का फैसला लिया है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वर्तमान में जारी जिलाधीश कार्यालयों की घेराबंदी के साथ अनशन कार्यक्रम भी 29 से आरंभ किया जाये। 

नेताओं ने कहा कि केंद्र के तीन कृषि बिलों को वापस लेने तक उनकी लड़ाई जारी रहेगी। कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों के जारी आंदोलन के समर्थन में शनिवार को दस वामपंथी दलों की विजयवाड़ा के सीपीएम कार्यालय में बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में तीन अनशन करने का फैसला लिया गया।

बैठक के बाद माकपा के राज्य सचिव पी मधु ने मीडिया से कहा कि वामपंथी दलों के साथ किसानों के शुभचिंतक मिलकर तीन दिन अनशन कार्यक्रम किया जाएगा। अनशन को सफल बनाने के लिए रविवार और सोमवार को जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 

यह भी पढ़ें :

कृषि विधेयक का विरोध: बिना अनुमति प्रदर्शन करने पर रालोद कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज

सीपीआई के प्रदेश सचिव के रामकृष्णा ने कहा कि मोदी सरकार कॉर्पोरेट एजेंडे को लागू करते हुए सरकारी संस्थाओं को कॉर्पोरेट कंपनियों को सौंप देने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि कृषि बिल से किसानों को अनेक प्रकार से मुश्किले पैदा होगी। बैठक में वामपंथी नेता जल्ली विल्सन, वाई वेंकटेश्वर राव और अन्य ने भाग लिया।

Advertisement
Back to Top