नारा लोकेश बाबू एक राजनीतिक अज्ञानी है : शमंतकमणि

 mlc-shamanthakamani-slams-nara-lokesh-babu-over-anantapur visit - Sakshi Samachar

अनंतपुर (आंध्र प्रदेश) :  बीते आम चुनाव में बुरी तरह से पराजीत तेलुगु देशम पार्टी के नेताओं में उत्पन्न मतभेद और गहरे होते जा रहे हैं। हाल ही में टीडीपी के नेता नारा लोकेश का अनंतपुर दौरे से पार्टी में और दरार पैदा कर दी है। जेसी परिवार को अधिक प्रमुखता देने के कारण पार्टी के नेताओं में असंतोष है। लोकेश के अनंतुपर दौर के समय जेसी पवन रेड्डी हैदराबाद से लोकेश के साथ कार में आये। लोकेश का पूरा दौरा जेसी पवन और एमएलसी दीपक रेड्‍डी के देखरेख में हुआ/जारी है।   

इसके चलते पूर्व विधायक प्रभाकर चौधरी, जितेंद्र गौड़, उन्नम हनुमंत राय चौधरी, पूर्व सांसद निम्मल किष्टप्पा और नेताओं ने असंतोष व्यक्त कर रहे हैं। इसी क्रम में पूर्व मंत्री परिटाला सुनीता, कालुवा श्रीनिवास भी इस दौरे को लेकर असंतोष है। साल 2014 तक टीडीपी को कुचलने वाले जेसी परिवार को प्रमुखता देने पर टीडीपी नेताओं में गंभीर बहस चल पड़ी है। यदि जेसी परिवार को प्रमुखता दिया जाता तो वरिष्ठ नेता पार्टी छोड़ने को भी तैयार हो गये हैं। इसी क्रम में बंडारू श्रावणी का गुट भी लोकेश के व्यवहारशैली पर नाराज है। ये सभी नेता पार्टी के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू के पास  जाकर आर-पार करने का मन बना लिया है।

नारा लोकेश एक अज्ञानी नेता है  : शमंतकमणि

दूसरी ओर एमएलसी शमंतकमणि ने नारा लोकेश की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी द्वारा लागू किये जा रहे है अच्छे-अच्छे योजानाओं की भी लोकेश आलोचना कर रहा है। एमएलसी ने सवाल किया है कि किसानों के कल्याण के लिए लागू किये गये योजनाएं क्या नारा लोकेश को दिखाई नहीं दे रहे हैं? रैतु भरोसा, वाईएसआर जलकला के तहत फ्री में बोर वेल क्या लोकेश नहीं जानते हैं? चंद्रबाबू नायडू के शासनकाल में आत्महत्या कर चुके किसानों को सीएम जगन ने मदद की हैं। क्या यह बात लोकेश को पता नहीं है?

वाईएस जगन किसानों का मसीहा

नारा लोकेश की अनंतपुर यात्रा के मद्देनजर शामंतकमणि शनिवार को मीडिया से सरकार के खिलाफ तेदेपा नेताओं द्वारा लगाए गए आरोपों की कड़ी निंदा की। साथ ही कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी  किसानों की हितों की रक्षा करने वाले मसीहा है। उन्होंने कहा कि बारिश से प्रभावित किसानों की मदद के लिए सरका तैयार है। इसके लिए आवश्यक कदम भी उठाए रही है। नारा लोकेश को क्या मालूम है। वो तो एक अज्ञानी नेता है।

वह झूठ और यह सच
 
लोकेश ने शुक्रवार को जिले के करडिकोंडा, धर्मैपुरम, मिडतुरु, रामदासपेट और कामरुपल्ली गांवों में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और खेतों का निरीक्षण किया। इस दौरान लोकेश ने आरोप लगाया कि लाखों एकड़ में फसल को नुकसान पहुंचा है। इसी क्रम में जिलाधीश गंदम चंद्रुडू ने तथ्यों का खुलासा किया। जिलाधीश ने कहा कि अनंतपुर जिले में भारी बारिश के कारण 38.53 करोड़ रुपये की फसल को नुकसान पहुंचा है। साथ ही बताया कि 13.861 एकड़ में फसल बर्बाद हो गई है।

Advertisement
Back to Top