टीडीपी नेताओं ने पार कर दी बेशर्मी की हद, कर रहे गलत प्रचार : मल्लादी विष्णु

malladi vishnu blames tdp leaders behaving shamelessly  - Sakshi Samachar

लॉकडाउन के चलते बिजली के बिल नहीं बनाये गये

टीडीपी सरकार के खिलाफ गलत प्रचार कर रही है

विजयवाड़ा : टीडीपी नेताओें की हर बात पर लोग गौर कर रहे हैं। उनके फर्जी अनशन पर भी लोगों की नजर बनी हुई है। टीडीपी अपने स्वार्थ के अलावा लोगों के कल्याण के बारे में नहीं सोच रही है। पिछले पांच वर्ष के दौरान टीडीपी ने अपने कार्यकाल में बिजली की दरें तीन बार बढ़ाई थी। 

ब्राह्मण कॉरपोरेशन के चेयरमैन और विधायक मल्लादी विष्णु ने कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी के नेतृत्व में बनी सरकार ने बिजली की दरें नहीं बढ़ाई है। कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर लॉकडाउन के चलते बिजली बिल नहीं बनाये गये। स्लैब के तौर पर दो महीने का बिल जारी किया गया। इससे टीडीपी नेताओं को लगा कि सरकार ने बिजली की दरें बढ़ाई, लेकिन ऐसा नहीं है। 

विधायक ने कहा कि कोरोना के आपातकाल के दौरान टीडीपी नेता घर में ही बैठ कर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। टीडीपी नेता लोगों को सरकार के खिलाफ गलत प्रचार कर गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। टीडीपी नेताओं ने बेशर्मी की हद पार कर दी है। पार्टी की साख बचाने में लगे टीडीपी नेता निचले स्तर की निचले स्तर की राजनीति कर रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें :

LG प्लांट और बिजली को लेकर कहीं पर भी चंद्रबाबू के साथ चर्चा के लिये तैयार : विजयसाई

चंद्रबाबू नायडू ने धांधलियों को अंजाम  दिया

मल्लादी विष्णु ने कहा कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कृषि और बिजली क्षेत्र महत्वपूर्ण निर्णय लिये हैं। इसके मुताबिक किसानों को फसल सिंचाई के लिए आवश्यक बिजली लगातार 9 घंटे मुफ्त आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू नायडू ने अपने कार्यकाल के दौरान अलग-अलग धांधलियों को अंजाम देते हुये कर्ज की खाई में धकेला है। पीपीएल के नाम पर चंद्रबाबू ने सरकारी खजाने की लूटखसोट की है। 

चेयरमैन मल्लादी विष्णु ने कहा कि टीडीपी के फर्जी अनशन से वाईएसआरसीपी का कोई नुकसान या फायदा नहीं होने वाला है। इस बीच इलेक्ट्रिकल डीई कोटेश्वर राव ने कहा कि राज्य में 500 यूनिट पार करने वाले को ही केवल 90 पैसे बढ़ाये गये हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक बोंडा उमा के आरोप में कोई सच्चाई नहीं है। 
 

Advertisement
Back to Top