आंध्र प्रदेश विधानसभा सत्र : सदन में हंगामा खड़ा करने वाले टीडीपी के 7 सदस्य निलंबित

 7 TDP MLA Suspended in Andhra Pradesh Assembly Session - Sakshi Samachar

आंध्र प्रदेश विधानसभा में दिन तेलुगु देशम पार्टी के विधायकों ने में हंगामा खड़ा किया

अध्यक्ष के मझाने पर भी टीडीपी के सदस्यों ने सदन की कार्रवाही को बाधित किया

अमरावती : आंध्र प्रदेश विधानसभा सत्र के चौथे दिन तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के विधायकों ने में हंगामा खड़ा किया है। इसके चलते विधानसभा अध्यक्ष तम्मिनेनी सीताराम ने विधायक वेलगपुड़ी रामकृष्णबाबू, वीरांजनेयुलू, अच्चेन नायडू, मंतेना राम राजू, जोगेश्वरा राव, निम्मल रामा नायडू और अंजनी सत्यप्रसाद को एक दिन के लिए सदन से निलंबित कर दिया।

तेदेपा सदस्यों ने सत्र विधानसभा में विधायक पी राजन्ना दोरा बोलते समय टीडीपी के सदस्यों ने बाधित किया। अध्यक्ष के लाख समझाने पर भी टीडीपी के सदस्यों ने नारे लगाते हुए सदन की कार्रवाही को बाधित किया गया। इसके चलते विधानसभा अध्यक्ष ने टीडीपी के सदस्यों को एक दिन के लिए निलंबित कर दिया।

इससे पहले आंध्र प्रदेश के नागरिक आपूर्ति मंत्री कोडाली (Kodali Nani) नानी ने चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) को फेक नेता प्रतिपक्ष और फेक टीडीपी (TDP)करार दिया। उन्होंने कहा कि बिना गठबंधन के बिना चुनाव लड़ने में असमर्थ चंद्रबाबू नायडू को सीएम जगन की आलोचना करने की योग्यता नहीं है। विधानसभा के शीतकालीन सत्र के तहत उन्होंने मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी को लेकर की गई टिप्पणी को लेकर टीडीपी प्रमुख को आड़े हाथों लिया। 

संबंधित खबर :

AP विधानसभा के शीतकालीन सत्र का चौथा दिन : दिशा कानून को मिले 4 राष्ट्रीय अवार्ड

उन्होंने कहा कि राज्य की जनता जानती है कि कौन भागने वाला है और कौन नहीं। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू को ये नहीं भूलना चाहिए कि वे चंद्रगिरी छोड़कर कुप्पम भागे थे। यही नहीं, वोट के बदले नोट मामले में चंद्रबाबू हैदराबाद से भाग गए।  कोरोना आते ही काल्वगट्टू से हैदराबाद भाग गए।

बाबू ने कभी वक्त पर नहीं दिया पेंशन

उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू की हरकतों से लगता है कि वह एक फेक नेता प्रतिपक्ष हैं। चंद्रबाबू के शासनकाल में पेंशन तक नहीं दिया गया और केवल किसी की मौत होने पर नया पेंशन दिया जाता था। परंतु सीएम जगन के आने के बाद सभी को पेंशन दिया जा रहा है। हर महीने की एक तारीख को पेंशन लाभार्थियों तक पहुंचाया जा रहा है। 

बाबू को खुश करने के लिए ऐसे आरोप : बोत्सा

नागरिक प्रशासन मंत्री बोत्सा सत्यनारायण ने कहा कि चंद्रबाबू पूर्व सीएम दिवंगत एनटीआर की पीठ में छूरा घोंपकर सीएम बने, लेकिन वाईएस जगन मोहन रेड्डी खुद की पार्टी स्थापित कर जनसमर्थन के साथ सीएम बने हैं और वह पीठ में छूरा घोंपने वाली राजनीतिक नहीं जानते।  उन्होंने कहा कि टीडीपी के सदस्य सिर्फ बाबू को खुश करने और उनकी नजर में बने रहने के लिए सरकार पर बेबुनियाद आरोप लगाते हुए सदन को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं।

Advertisement
Back to Top