क्रेन के निर्माण में खराबी के कारण ही हिंदुस्तान शिपयार्ड दुर्घटना : विनय चंद

Visakhapatnam Hindustan Shipyard Accident Report Report Submitted - Sakshi Samachar

क्रेन परीक्षण के दौरान न्यूनतम सावधानी नहीं बरती गई

क्रेन का निर्माण क्षमता के अनुरूप नहीं किया गया था

विशाखापट्टणम : विशाखापट्टणम कलेक्टर विनय चंद ने कहा कि क्रेन के निर्माण में खराबी के कारण ही हिंदुस्तान शिपयार्ड में क्रेन दुर्घटना में घटी है। इस महीने की 1 तारीख को क्रेन दुर्घटना में दस लोग मारे गए थे। सरकार ने इस दुर्घटना की जांच के लिए आंध्र विश्वविद्यालय के पांच प्रोफेसर, विशाखापट्टणम आरडीओ औक आर एंड बीएसई के साथ एक समिति को गठन किया गया था। समिति ने बुधवार को शिपयार्ड में दुर्घटना पर रिपोर्ट सौंपी है।

जिलाधीश ने बताया कि विशेषज्ञ समिति की रिपोर्ट में कहा गया है कि क्रेन के रखरखाव में लापरवाही स्पष्ट रही है। 70 टन के भार के क्रेन परीक्षण के दौरान न्यूनतम सावधानी नहीं बरती गई थी। क्रेन का कार्बन ब्रशेस गिर गया। क्षतिग्रस्त हो गए इन्सुलेटर को तीन बार बदले गए। पिछली बार किये गये ट्रायल रन के दौरान गियरबॉक्स में तेल रिसाव हुआ था।

गियरबॉक्स फेल होने के कारण ही क्रेन गिर गया। दुर्घटना सिर्फ दस सेकंड रही है। क्रेन संरचनात्मक डिजाइनिंग और ड्राइंग्स को थर्ड पार्टी के साथ जांच नहीं की गई थी। उन्होंने कहा कि क्रेन के निर्माण में ही कामिया है। क्रेन का निर्माण क्षमता के अनुरूप नहीं किया गया था। लोड परीक्षण एक विशेषज्ञ द्वारा किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें :

विशाखापट्टणम : हिंदुस्तान शिपयार्ड में क्रेन हादसा, 11 मजदूरों की मौत

जिलाधीश ने कहा कि विशेषज्ञों ने सुझाव दिया है कि ट्रायल रन थर्ड पार्टी की ओर से किया जाना चाहिए। यदि कंपनी प्रबंधन ने लापरवाही की है तो कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement
Back to Top