गुरजाला के पूर्व विधायक के दो पोतों की कोरोना से मौत, बड़े भाई की सेवा कर रहा था छोटा भाई

two grandsons of former mla of gurjala deceased covid infection in guntur - Sakshi Samachar

नरेश की 21 जुलाई को मौत हो गई

रामकृष्णा की 11 अगस्त को मौत हुई

 

गुंटूर : कोरोना की महामारी दो भाईयों की जान ले ली। 20 दिनों के अंतराल से कोरोना के संक्रमण के चलते दो भाइयों की मौत हो गई। यह दर्दनाक घटना से दाचेपल्ली मंडल के मुत्यालमपाडू में घटी। 

गुरजाला के पूर्व विधायक कोत्ता वेंकटेश्वरुलु के पोते कोत्ता नरेश और कोत्ता रामकृष्णा कोरोना संक्रमण के शिकार बने। कोत्ता वेंकटेश्वरुलु के बेटे कोटेश्वर राव-रत्नाकुमारी दंपती के दो बेटे और एक बेटी है। बड़ा बेटा नरेश पिडुगुराल्ला में व्यापार करता था और छोटा बेटा रामकृष्णा वाईएसआरसीपी का क्रियाशील कार्यकर्ता था। 

कुछ दिनों पहले नरेश अस्वस्थ चल रहा था। उसने कोरोना टेस्ट कराया। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। कोरोना से संक्रमित बड़े भाई की छोटा भाई रामकृष्णा सेवा करता रहा। इस दौरान चिकित्सा प्राप्त कर रहे नरेश की बीते महीने की 21 तारीख को मौत हो गई। नरेश की मौत के बाद रामकृष्णा ने कोरोना टेस्ट कराया तो उसकी भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 

कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर रामकृष्णा चिकित्सा के लिए नरसारावपेट के एक निजी अस्पताल में भर्ती हुआ। बेहतर चिकित्सा के लिए उसे हैदराबाद के एक निजी अस्पताल भेजा गया। चिकित्सा के दौरान रामकृष्णा की मंगलवार को मौत हुई। यह जानकारी परिवार के सदस्यों ने दी। 

दो भाइयों की कोरोना से मौत होने पर परिवार में शोक बना रहा। रामकृष्णा की मौत पर गुरजाला के विधानसभा सदस्य महेश रेड्डी ने शोक व्यक्त किया। 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top