कोरोना के संक्रमण के चलते जारी लॉकडाउन के कारण उच्च सदन के सदस्यों का शपथ ग्रहण स्थगित

Swearing in of AP Four and two newly elected members of Telangana postponed - Sakshi Samachar

37 सदस्यों का निर्विरोध चुनाव

तत्काल शपथ ग्रहण की जरूरत नहीं

नई दिल्ली : राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने कोरोना वायरस के मद्देनजर लागू लॉकडाउन समाप्त होने तक उच्च सदन के 37 नवनिर्वाचित सदस्यों का शपथ ग्रहण स्थगित कर दिया है। सरकार ने नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च से 21 दिन का लॉकडाउन किया है। राज्यसभा में 17 राज्यों से 3 से 13 अप्रैल के बीच 50 सीटें खाली हुई हैं जिनमें 37 सदस्यों का निर्विरोध निर्वाचन किया जा चुका है।

राज्यसभा के सभापति ने नवनिर्वाचित सदस्यों को प्रेषित परामर्श में कहा, "राज्यसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों को लॉकडाउन की अवधि समाप्त होने तक शपथ ग्रहण के लिए प्रतीक्षा करने का परामर्श दिया जाता है।'' नायडू ने कहा कि लॉकडाउन के मद्देनजर संसद के उच्च सदन के नवनिर्वाचित सदस्यों को सूचित किया गया कि तत्काल शपथ ग्रहण की जरूरत नहीं है।

राज्यसभा के निर्विरोध निर्वाचित सदस्यों में कुछ प्रमुख नाम- उप सभापति हरिवंश, शरद पवार, रामदास अठावले, प्रेमचंद गुप्ता, बी कलीता, दीपेंद्र सिंह हुड्डा, थंबिदुरै, जी के वासन, तिरुचि शिवा, के केशव राव, दिनेश त्रिवेदी और प्रियंका चतुर्वेदी के हैं।

इसे भी पढ़ें :

कोरोना पर राजनीति करना चंद्रबाबू की नीचले स्तर की सोच : मंत्री बोत्सा

राज्यसभा की सात सीटें महाराष्ट्र से खाली हुई हैं, वहीं छह तमिलनाडु से, पांच-पांच पश्चिम बंगाल और बिहार से, चार-चार आंध्र प्रदेश, गुजरात और ओडिशा से, तीन-तीन सीटें असम, मध्य प्रदेश और राजस्थान से, दो-दो छत्तीसगढ़, झारखंड, हरियाणा और तेलंगाना से तथा हिमाचल प्रदेश, मणिपुर और मेघालय से एक-एक सीटें खाली हुई हैं।

Advertisement
Back to Top