Cyclone Nivar से आंध्र में हजारों हेक्टेयर भूमि में फसल का नुकसान, 3 की मौत

Crop in thousands of hectares loss in Andhra Pradesh due to Cyclone Nivar - Sakshi Samachar

10,000 से भी अधिक लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया

 प्रत्येक व्यक्ति को 500 रुपये आर्थिक सहायता की घोषणा

अमरावती : चक्रवात निवार (Cyclone Nivar) के कारण पिछले दो दिनों में हुई भारी बारिश के कारण आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में करीब 30,000 हेक्टेयर में लगी फसलें क्षतिग्रस्त हो गईं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि बारिश संबंधी घटनाओं के कारण मरने वालों की संख्या शुक्रवार को बढ़कर तीन तक पहुंच गई जबकि एसपीएस नेल्लोर (Nellore) और चित्तूर (Chittoor) जिलों में 10,000 से भी अधिक लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने बताया कि स्वर्णमुखी, भीमा और पेन्ना (Penna) नदियों के उफान पर रहने के साथ ही अन्य मध्यम एवं छोटे जलाशयों के भी लबालब होने के चलते कई स्थानों से संपर्क टूट गया। 

बताया गया कि बाढ़ के कारण 180 किलोमीटर से अधिक की सडकें क्षतिग्रस्त हो गईं। राष्ट्रीय एवं राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) और पुलिसकर्मियों ने जलमग्न हो चुके कई गावों से लोगों को सुरक्षित निकाला। राज्य मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को बैठक कर स्थिति का जायजा लिया और मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी (YS Jagan Mohan Reddy) ने राहत शिविरों में आश्रय लेने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए 500 रुपये की आर्थिक सहायता की घोषणा की। 

इसे भी पढ़ें :

29 नवंबर को बंगाल की खाड़ी में एक और तूफान

Cyclone Nivar के कारण आंध्र प्रदेश में मूसलाधार बारिश, एक व्यक्ति की मौत

चित्तूर जिले के सदाशिवपुरम में कोना नदी के बहाव में 11 गिरीजन लोग फंस गये थे। रेस्क्यू टीम ने उन्हें शनिवार की सुबह सुरक्षित किनारे पर लाया। उनके बचाव का काम शुक्रवार की रात से जारी था। आखिरकार शनिवार को पानी के बहाव से बाहर निकाला गया। श्रीकालहस्ती के विधायक बिय्यपु मधुसूदन रेड्डी ने खुद वहां पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। बचाव कार्य के दौरान टीम के दो सदस्य नहर में गिरे, जिन्हें अन्य सदस्यों ने शीघ्र ही बचा लिया। 

Related Tweets
Advertisement
Back to Top