कोरोना वायरस के असर को देखते हुये नहीं ली जा सकेगी परिक्षाएं : मंत्री सुरेश

6 To 9 Class Students promoted Upper Class Without Exams  in AP - Sakshi Samachar

6 से 9 वीं कक्षा तक छात्रों के लिए सुनहरा मौका

छात्रों को घर पर मिलेगा मध्यान्ह भोजन 

अमरावती : कोरोना वायरस के बढ़ते असर को देखते हुये आंध्र प्रदेश सरकार ने एक  और महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। 6 से 9 वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को परीक्षा लिखे बिना ही अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। इस संदर्भ में प्रदेश के शिक्षा मंत्री आदिमुलपु सुरेश ने गुरुवार को मीडिया सम्मेलन के दौरान इसका एलान किया।

मंत्री ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस के असर को देखते हुये मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी के आदेश पर शिक्षा विभाग ने यह निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में परीक्षाओं का आयोजन  मुनासिब नहीं है। हालांकि दसवीं कक्षा की परिक्षाएं स्थगित की गई हैं।

इ़स महीने की 31 तारीख को  मौजूदा स्थिति की समीक्षा के बाद दसवीं कक्षा की परीक्षा की समयसारणी घोषित की जाएगी। छात्रों को इस संदर्भ में परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। फिलहाल स्कूल बंद होने से बच्चों के घर पर ही भोजन पहुंचाने का अधिकारियों ने निर्णय लिया है। वालेंटियर के सहयोग से बच्चों को मध्यान्ह भोजन योजना का भोजन छात्रों  को घर पहुंचाया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें :

AP के कडपा सांसद अविनाश रेड्डी ने दिये 2 करोड़, कोरोना रोकने के लिए होगा खर्च

इससे पहले शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ सीएम जगन मोहन रेड्डी ने समीक्षा की। सीएम जगन ने अधिकारियों को बच्चों को भोजन पहुंचाते समय जरूरी एतिहात बरतने को कहा है। मध्यान्ह भोजन सभी जगहों पर एक जैसा रूचि वाला होना चाहिए। उन्होंने योजना को और मजबूत बनाने पर जोर दिया। 

Advertisement
Back to Top