सियोल : उत्तर कोरिया के अध्यक्ष किम जोंग उन ने डायमंड माउंटेन रिजॉर्ट स्थित दक्षिण कोरिया निर्मित होटलों और अन्य पर्यटन भवनों को नष्ट करने का आदेश दिया है। जारी आदेश में कहा गया है कि उत्तर कोरिया यह इसलिए कर रहा है कि क्योंकि दक्षिण कोरिया अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों की अवहेलना नहीं करेगा और उस स्थान पर अपने पर्यटन को बढ़ावा भी करेगा।

उत्तर कोरिया की सरकारी न्यूज एजेंसी कोरियन सेंट्रल ने बुधवार को कहा कि किम ने रिजॉर्ट का दौरा किया और उसकी सुविधाओं को जर्जर तथा उसमें राष्ट्रीयता की कमी बतायी है। खबर के अनुसार किम ने अपने दिवंगत पिता के समय की उत्तर कोरिया की उन नीतियों की आलोचना की जो काफी हद तक दक्षिण कोरिया पर निर्भर थीं।

मिली रिपोर्ट के अनुसार किम ने दक्षिण कोरिया के अधिकारियों के साथ इस मुद्दे पर चर्चा के बाद अपने अधिकारियों को दक्षिण कोरिया द्वारा निर्मित कम आकर्षक भवनों को नष्ट करने और अपने तरीके से नये आधुनिक सेवा भवनों के निर्माण का निर्देश दिये। जो बाद में माउंट कुमकांग के प्राकृतिक सुंदरता के साथ मेल खाते हैं।

गौरतलब है कि डायमंड माउंटेन में साल 2008 में एक पर्यटक की मौत के बाद दक्षिण कोरिया ने वहां पर्यटन बंद कर दिया था। इसके अनुसार उत्तर कोरिया के विरूद्ध प्रतिबंधों का विरोध किये बिना अंतर कोरियाई आर्थिक गतिविधियां फिर से शुरू नहीं हो सकती हैं। दोनों कोरियाई देशों के बीच साल 2016 तक आर्थिक गतिविधियां मजबूत हुई थीं। लेकिन इसके बाद उत्तर कोरिया ने अपने परमाणु कार्यक्रम में तेजी लानी शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें:

किम ने किया सबसे पवित्र पर्वत माउंट पैकटु पर घोड़े की सवारी, बड़े कार्रवाई की अटकले तेज