हैदराबाद: तेलंगाना में चुनावों का उल्लुओं से कनेक्शन है। जानकर आपको हैरानी होगी लेकिन पूरा मामला बेहद सनसनीखेज और हैरान करने वाला है।

हाल ही में कर्नाटक के वन इलाके में उल्लुओं को लगातार पकड़े जाने की कई घटनाएं सामने आई। हरकत में आई कलबुरगी पुलिस ने मामले में 6 आरोपियों को इंडियन ईगल आउल तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया। उनसे पूछताछ में पता चला कि वे तस्करी के लिए पकड़े गए एक-एक उल्लू को लाखों की कीमत में तेलंगाना के नेताओं को बेचने वाले थे।

आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि दरअसल तेलंगाना के नेताओं की तरफ से ही उल्लुओं की डिमांड की गई है। दरअसल 7 दिसंबर को आज वोटिंग के मद्देनजर कई नेता तांत्रिक क्रियाएं करने वाले थे। जिसके लिए उल्लुओं की जरूरत पड़ती है। इसी चलते नेताओं ने कर्नाटक में तस्करों को उल्लू पकड़ने में लगाया।

यह भी पढ़ें:

Telangana Elections Live : शुरू हुआ मतदान, हरीश राव सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने डाला अपना वोट

तेलंगाना मतदान की सबसे बड़ी कवरेज, हर चुनावी गतिविधि पर नजर

खैर उल्लुओं से जुड़ी तांत्रिक क्रिया नेताओं को कितना फायदा दिलाएगी ये तो कहना मुश्किल है। वहीं इस तरह की किसी अंधविश्वास से परे आम जनता घरों से निकल पड़ी है वोट डालने के लिए। इसके साथ ही नेताओं की किस्मत ईवीएम में कैद होती जा रही है।

तेलंगाना पुलिस भी पूरी तरह सतर्क है कि अगर उल्लुओं के साथ कोई भी नेता तांत्रिक क्रिया करता पाया गया। तो उक्त नेता के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सकती है। दुखद ये कि कई बार तो तंत्र मंत्र के नाम पर उल्लुओं को मार दिया जाता है।